हत्या के बाद नदी के किनारे फेंक दी लाश, धोखे से युवक को बुलाया था घर

जिले के बाबूबरही थाना क्षेत्र के पिपराघाट में शनिवार की रात एक युवक की हत्या कर उसके शव को नदी के किनारे फेंक दिया. देर रात में शव मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मच गया. शव की पहचान खुटौना थाना क्षेत्र के खुटौना बाजार स्थित वार्ड-8 निवासी मोहम्मद जमील उर्फ दुख्खन के 21 वर्षीय पुत्र अरमान सिद्दीकी के रूप में हुई है. वह घर में अकेला कमाने वाला था. इस घटना के बाद परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है.

परिजनों का कहना है कि शनिवार की रात 8:30 बजे अरमान के मोबाइल पर  किसी का फोन आया. इसके बाद वह घर पर से बोलकर निकल गया. जाते वक्त कहा कि वह कुछ समय में लौटकर आ जाएगा, लेकिन रात में जब वह नहीं आया तो उसकी खोजबीन की गई लेकिन कहीं उसका पता नहीं चला. देर रात खुटौना थाने से फोन आया कि बाबूबरही थाना क्षेत्र में एक शव बरामद हुआ है. घटना की सूचना मिलने के बाद कोहराम मच गया.

अभी चार बहनों की नहीं हुई है शादी
अरमान दो भाइयों में सबसे बड़ा था. पिछले वर्ष पिता के पैर टूट जाने की वजह से वो काम नहीं कर पा रहे थे जिसके बाद अरमान ही बाजार में कपड़ा बेचकर घर चलाता था. उसकी छह बहनें हैं जिनमें दो की शादी हो गई है और चार बहनों की शादी करनी है. उसका भाई 12 वर्ष का है और वह पढ़ाई करता है.

पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया

इधर, पुलिस ने मौके से दो लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ कर रही है. बाबूबरही थाने की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मधुबनी सदर अस्पताल भेजा है. घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने रविवार को खुटौना-बाबूबरही मुख्य मार्ग को घंटो जाम कर दिया. सीओ, थाना प्रभारी और स्थानीय जनप्रतिनिधियों के समझाने के बाद जाम हटाया.