‘अमित शाह बिहार आ रहे हैं, मैंने सुना है.. लालू, नीतीश, तेजस्वी सब दुखी हैं’

बिहार की राजधानी पटना में गृहमंत्री अमित शाह के बिहार आने को लेकर सियासी पारा चढ़ा हुआ. सूबे में सत्ता पक्ष और विपक्ष की बयानबाजियां तेज हो गई है. इसी बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता और लोकसभा सांसद रविशंकर प्रसाद(BJP leader Ravi Shankar Prasad) ने बिफरते हुए मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और महागठबंधन पर तेज हमला किया है. उन्होंने कहा कि, मैंने सुना है कि लालू जी, नीतीश जी और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव जी परेशान हैं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिहार क्यों आ रहे हैं. क्या अब गृहमंत्री को बिहार आने के लिए नीतीश जी और लालू जी से वीजा लेना पड़ेगा।

बिहार में आने का सबको अधिकारः गृहमंत्री अमित शाह के बिहार दौरे (Amit Shah Seemanchal rally ) को लेकर बीजेपी नेता रविशंकर ने कहा कि बिहार भारत का अंग है. यहां आने का सबको अधिकार है. एक साधारण आदमी से लेकर प्रधानंत्री तक को देश में कहीं भी आने जाने का अधिकार है. फिर गृहमंत्री तो गृहमंत्री हैं. इसमें लोगों को परेशानी क्यों है. मैंने सुना है कि लालू जी, नीतीश जी और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव जी परेशान हैं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिहार क्यो आ रहे हैं. गृहमंत्री को बिहार आने के लिए नीतीश जी और लालू जी से वीजा लेना पड़ेगा क्या? . मैं महागठबंधन के लोगों से कहूंगा कि कृप्या करके बिहार में कौन आ रहा है और कौन नहीं आ रहा है, इस पर सवाल उठाना बंद करें।

मैंने सुना है कि लालू जी, नीतीश जी और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव जी परेशान हैं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिहार क्यों आ रहे हैं. क्या अब गृहमंत्री को बिहार आने के लिए नीतीश जी और लालू जी से वीजा लेना पड़ेगा. महागठबंधन के लोगों से कहूंगा कि कृप्या करके बिहार में कौन आ रहा है और कौन नहीं आ रहा है, इस पर सवाल उठाना बंद करें ” – रविशंकर प्रसाद, बीजेपी सांसद

अवसरवादी सरकार से गुस्से में है जनताः बीजेपी नेता रविशंकर ने कहा कि सच्चाई यह है कि यह जो अवसरवादी भ्रष्ट गठबंधन बना है, ये परेशान हो जाता है. क्योंकि जनता इनसे दुखित है और जनता गुस्से में है और हम प्रदेश में अपने संगठन का और विस्तार करेंगे. हम बिहार के कोने कोने में जाएंगे. लोगों को बताएंगे कि यह एक ऐसा अवसरवादी गठबंधन है, इसमें कोई मुख्यमंत्री बनने के लिए ललायित है तो कोई प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब देख रहा है. बिहार में हम जाएंगे, घूमेंगे, काम करेंगे और साथ ही बिहार की जनता को ये भी बताएंगे कि हम आपके साथ खड़े हैं।