अमित शाह कल आएंगे बिहार, दौरे से ठीक पहले सीमांचल में बांग्लादेशी घुसपैठ के मुद्दे पर भाजपा के तेवर गरम

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 23 सितंबर को सीमांचल के दो दिवसीय दौरे पर पूर्णिया पहुंच रहे हैं. शुक्रवार को पूर्णिया के इंदिरा गांधी स्टेडियम में जनभावना रैली को गृह मंत्री संबोधित करेंगे जबकि अगले दिन 24 सितंबर, शनिवार को किशनगंज में दो अलग-अलग बैठकों में शिरकत करेंगे. गृह मंत्री के आगमन से ठीक पहले भाजपा ने सीमांचल में बांग्लादेशी घुसपैठ का मुद्दा उठाया है।

बांग्लादेशी घुसपैठियों का मुद्दा उठाया

गृह मंत्री के इस सीमांचल दौरे को कई मायनों में अहम माना जा रहा है. भाजपा अमित शाह के कार्यक्रमों की तैयारियों को अंतिम रुप देने में जुटी है. गृह मंत्री के दौरे से पूर्व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने बांग्लादेशी घुसपैठियों के मुद्दे को उठाया. उन्होंने कहा कि सीमांचल में अनेकों समस्याएं खड़ी हो रही है. कहा कि वैसे भी यहां सीमित रोजगार है उपर से अगर घुसपैठ होता है तो स्वभावित है कि समस्याएं खड़ी होगी।

बिहारी मुसलमानों के हक की बात भी कही…

संजय जायसवाल ने कहा कि इन्हीं घुसपैठियों की वजह से आज स्थानीय बिहारी मुसलमान गरीब से गरीब होते जा रहे हैं. भाजपा का मानना है कि ये देश सभी धर्मों का है. यहां हिंदु-मुस्लिम सभी प्रेम से रहें लेकिन यह बांग्लादेशी घुसपैठियों के लिए देश हरगिरज नहीं है. वहीं भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने अमित शाह के आगमन को लेकर कहा कि गृह मंत्री के इस दौरे से आतंक की जड़ें हिल जाएंगी।

बांग्लादेशी घुसपैठियों से विपक्षी दल को फायदा- शाहनवाज हुसैन

शाहनवाज हुसैन ने भी बांग्लादेशी घुसपैठियों पर हमला बोला और कहा कि विपक्षी दल अपने वोट बैंक के लिए ऐसे लोगों को तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराते हैं. गृहमंत्री के दौरे से सीमांचल में घुसपैठियों को कड़ा संदेश मिलेगा. शाहनवाज हुसैन बुधवार को भागलपुर में पत्रकारों से बात कर रहे थे. इस रैली में कई जिलों के भाजपा कार्यकर्ता पहुंचेंगे. वहीं अमित शाह के कार्यक्रम को लेकर भाजपा के दिग्गज नेता लगातार जनसंपर्क भी कर रहे हैं।