सरकार बनते ही RJD ने टीम का किया ऐलान, मृत्युंजय तिवारी को नहीं मिली जगह, एक क्लिक में जानें पूरी लिस्ट

बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में नई महागठबंधन सरकार बन गई है. सरकार बनते ही आरजेडी ने अपने मीडिया पैनल का ऐलान किया है. आरजेडी ने 8 प्रवक्ताओं की घोषणा की है. हालांकि इस लिस्ट में मृत्युंजय तिवारी का नाम शामिल नहीं है. आरजेडी के महामंत्री राजेश यादव ने इसकी जानकारी दी है. उन्होंने लिस्ट जारी करते हुए लिखा है कि प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के निर्देशानुसार तत्काल प्रभाव से आरजेडी के इन आठ सदस्यों को प्रवक्ता मनोनीत किया जाता है. साथ ही कहा गया गया है कि जल्द इसका विस्तार किया जाएगा. आरजेडी ने जिन आठ प्रवक्ताओं की लिस्ट जारी की है, उसमें विधायक भाई बिरेन्द्र, पूर्व विधायक शक्ति सिंह यादव, एजाज अहमद, पूर्व विधायक इज्या यादव, रितु जायसवाल, पूर्व विधायक ऋषि मिश्रा, चितरंजन गगन और विधायक सतीश कुमार दास का नाम शामिल है।

आरजेडी प्रवक्ताओं की लिस्ट

विधायक भाई बिरेन्द्र

पूर्व विधायक शक्ति सिंह यादव

एजाज अहमद

पूर्व विधायक इज्या यादव

रितु जायसवाल

पूर्व विधायक ऋषि मिश्रा

चितरंजन गगन

विधायक सतीश कुमार दास

बता दें कि इससे पहले राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता के तौर पर मनोज कुमार झा और नवल किशोर का नाम शामिल था. वहीं प्रदेश स्तर पर राजद ने स्लॉट वाइज प्रवक्ताओं की सूची जारी की थी. राजद की लिस्ट में कुल 19 प्रवक्ता थे. राजद के प्रवक्ता लिस्ट के स्लॉट ए में शक्ति यादव, चितरंजन गगन, मृत्युंजय तिवारी, प्रशांत मंडल, सारिका पासवान, एसएम अनवर हुसैन, बंटू सिंह, संजीव सहाय और एजाज अहमद का नाम था. वहीं स्लॉट बी में भाई वीरेंद्र, रामानुज प्रसाद, एज्या यादव, सेवा यादव जबकि स्लॉट सी में कुमार सर्वजीत, अख्तरुल ईमान शाहीन, समीर महासेठ, रितु जायसवाल, आभा रानी और इकबाल मोहम्मद शमी को प्रदेश प्रवक्ता बनाया गया था. बीते दिनों महागठबंधन की सरकार बनने के हलचल के बीच आरजेडी ने मीडिया पैनल को भंग कर दिया था. आरजेडी की ओर से सिर्फ तेजस्वी यादव और जगदानंद सिंह को बयान देने के लिए अधिकृत किया गया था।

बतातें चलें कि बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में नई महागठबंधन सरकार बन गई है. नीतीश कुमार मुख्यमंत्री जबकि तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम बने हैं. नीतीश और तेजस्वी की सरकार का 24 अगस्त को सदन में फ्लोर टेस्ट होगा. जहां उन्हें बहुमत साबित करना होगा. सीएम और डिप्टी सीएम तो तय हो गया है लेकिन बिहार के नए मंत्रिमंडल की तस्वीर अभी साफ नहीं हुई है. सरकार में कौन-कौन शामिल होगा, किसके कितने मंत्री बनेंगे, यह सब अभी तय नहीं हुआ है. हालांकि माना जा रहा है कि महागठबंधन में इस बात पर सहमति बन रही है कि 5 विधायक पर एक मंत्री बनाया जाएगा. बतातें चलें कि नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने राज्यपाल फागू चौहान को 164 विधायकों का समर्थन पत्र सौंपा है. इसमें जेडीयू के 45, आरजेडी के 79, लेफ्ट के 16, कांग्रेस के 19, निर्दलीय एक और हम के चार विधायक शामिल हैं।