सचिन तेंदुल्कर की सुरक्षा में तैनात बॉडीगार्ड ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

NationalTrending

खबर क्रिकेट के भगवान कहे जाने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुल्कर से जुड़ी है। जिनके बॉडीगार्ड ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। घटना बीती रात की बताई जा रही है। जब छुट्टी पर घर लौटे बॉडीगॉर्ड प्रकाश गोविंदा कापड़े ने अपने सिर में गोली  मार ली। उस समय उसके परिवार में पत्नी और बच्चे दूसरे कमरे में सो रहे थे। मामले की सूचना के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि जामनेर शहर के जलगांव रोड स्थित गणपति नगर में तेंदुलकर के बॉडीगार्ड प्रकाश गोविंदा कापड़े (37) का घर है। जहां वह आठ दिन छुट्टी लेकर घर आए हुए थे। मंगलवार की रात जब परिवार के सभी लोग सो रहे थे। अचानक फायर की आवाज सुनकर लोगों की नींद खुली तो लोग दौड़े। प्रकाश के कमरे में घर वाले पहुंचे तो वह खून से लथपथ जमीन पर पड़ा था। लोग उसे किसी तरह अस्पताल लेकर गए लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

प्रकाश के परिवार में माता-पिता के साथ पत्नी और दो बच्चे भी हैं। सभी प्रकाश के इस कदम से सदमे में हैं। पत्नी और बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल हो। प्रकाश ने ऐसा आत्मघाती कदम क्यों उठाया इस बारे में कुछ भी पता नहीं चल रहा है।

घटना की जानकारी मिलने पर जामनेर पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक किरण शिंदे और उनके सहयोगी मौके पर पहुंचे. इसके बाद प्रकाश कापड़े के शव को पोस्टमार्टम के लिए जामनेर शहर के उपजिला अस्पताल भेज दिया गया. हालांकि, आत्महत्या का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है. पुलिस ने कहा कि जांच चल रही है और उसके बाद कारण स्पष्ट होगा.

एसआरपीएफ के जवान थे प्रकाश कापड़े

सचिन तेंदुलकर के बॉडीगार्ड प्रकाश गोविंद कापड़े की भर्ती एसआरपीएफ के जवान के रूप में की गई थी। पोस्टिंग के बाद से वह मुंबई में सचिन तेंदुलकर के बॉडीगार्ड के रूप में तैनात थे। उसके परिवार के सदस्यों, सहकर्मियों और जान-पहचान के अन्य लोगों से पूछताछ की जा रही है. सूत्रों ने बताया कि SRPF के भी स्वतंत्र जांच करने की संभावना है, क्योंकि जवान VVIP सुरक्षा में तैनात था.


Discover more from 𝐓𝐡𝐞 𝐕𝐨𝐢𝐜𝐞 𝐎𝐟 𝐁𝐢𝐡𝐚𝐫

Subscribe to get the latest posts to your email.

Rajkumar Raju

5 years of news editing experience in VOB.

Adblock Detected!

Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.