बिहार विधान परिषद चुनाव में भागलपुर में बोगस वोट का खेल, मतदान करने पहुंची महिला को लौटाया

भागलपुर के कृषि भवन में चल रहे कोशी स्नातक निर्वाचन में बोगस वोट का मामला सामने आया है। तिलकामांझी की निवासी प्रीति कुमारी को मतदान केंद्र के पदाधिकारियों ने वापस लौट जाने को कह दिया। प्रीति के मुताबिक उन्हें कहा गया कि उनका मतदान पहले ही किसी ने कर दिया है। प्रीति ने कहा कि मेरे पास मेरा आधार कार्ड है।

मेरे हाथ मे स्याही नही लगा हुआ है तो कोई मेरा वोट कैसे गिरा सकता है। प्रीति के पति राहुल कुमार का कहना है कि अधिकारी ने उनकी पत्नी को वोट देने से मना कर दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि यह बहुत बड़ी भूल है। आज के समय में कोई किसी के बदले कैसे वोट दे सकता है। प्रीति के पति राहुल कुमार नवयुग विद्यालय, भागलपुर में शिक्षक हैं।

वोट देने से किया गया मना
बोगस वोट की बात सामने आते ही दैनिक भास्कर की टीम ने पीठासीन पदाधिकारी से बात की। उन्होंने कहा कि जांच के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा कि वोट किसने गिराया है। प्रीति के आरोप पर उन्होंने कहा कि जो पहले आई थीं, उनके पास भी आधार कार्ड था। इस मामले पर सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

Leave a Reply