उत्तर प्रदेश के हापुड़ में एक बार फिर तेज रफ्तार का कहर देखने को मिला है. जहां बिहार के श्रद्धालुओं की बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई है. श्रद्धालुओं से भरी बस में तेज रफ्तार कैंटर ने जोरदार टक्कर मार दी. इस दुर्घटना में 16 श्रद्धालुओं सहित 19 लोग घायल हो गए हैं. दुर्घटना के बाद चारों ओर कोहराम मच गया. वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया. जहां कुछ की हालत नाजुक बनी हुई है, डॉक्टर ने उन्हें मेरठ रेफर कर दिया है।

मोतीहर से हरिद्वार जा रहे थे श्रद्धालु: घटना हापुड़ के हाफिजपुर थाना क्षेत्र की है. बिहार के मोतीहर से श्रद्धालु हरिद्वार के लिए बस से रवाना हुए थे. बस में करीब 60 श्रद्धालु थे जो गंगा स्नान के लिए हरिद्वार जा रहे थे. वहीं बस जब हाफिजपुर थाना के अकडौली के पास पहुंची तो पीछे से आ रहे तेज रफ्तार एक ट्रक ने ओवरटेक करने के दौरान टक्कर मार दी. टक्कर इतनी भयानक थी कि बस में सवार सभी श्रद्धालुओं के बीच चीख पुकार मच गई।

19 लोग हुए घायल: घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर तुरंत पहुंची सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया. दूसरी ओर अन्य श्रद्धालुओं के रूकने के लिए व्यवस्था की गई. घायल श्रद्धालुओं में पांच की हालत गंभीर बनी हुई है, जिन्हें मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया है. वहीं ट्रक ड्राइवर और कंडक्टर सहित 19 लोग घायल है. जिनमें से 17 श्रद्धालु हैं।

घायल श्रद्धालुओं के नाम : मामले में थाना हाफिजपुर प्रभारी विजय कुमार ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी. पुलिस ने सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया है. 19 लोग घायल हैं, जिनमें से पांच की हालत गंभीर देखते हुए मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया है. सिपाही सैनी, मीरा देवी, जयनंदन सैनी, परजा देवी, सुमित्रा देवी, जसोदा देवी, लालमति देवी, शिरमिखा देवी, विंदू देवी, कुसुम देवी और जवाहर सैनी. सभी का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है. इनमें गंभीर हालत के चलते पांच श्रद्धालुओं को मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया है. मेरठ रेफर श्रद्धालुओं के नाम रामदेव साहनी, राजेन्द्र मेहता, रमा साहनी, मुन्नी देवी और मालती देवी हैं।

“बस में करीब 60 श्रद्धालु मौजूद थे. बाकी श्रद्धालुओं को रोकने के लिए व्यवस्था कर दी गई है. घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.” – विजय कुमार, थाना प्रभारी, हाफिजपुर