पंजाब के खडूर साहिब संसदीय क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘कभी-कभी मुझे लगता है कि मैं एक आतंकवादी हूं।’ दरअसल केजरीवाल ने सीबीआई समन, ईडी नोटिस और पुलिस नोटिस को लेकर ये बात कही है। उन्होंने कहा कि वे हर दिन मेरे खिलाफ नए आरोप लगाते हैं। कभी सीबीआई समन, कभी ED नोटिस, कभी पुलिस नोटिस भेजते हैं। ऐसे में मुझे लगता है कि जैसे देश का सबसे बड़ा आतंकवादी मैं ही हूं।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार मेरे साथ एक अपराधी की तरह व्यवहार कर रही है। वह मुझे झूठे आरोप लगाकर गिरफ्तार करवाना चाहती है। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसियां बीजेपी के इशारे पर काम कर रही हैं और वह मुझे जेल में डालना चाहती हैं।

केंद्र सरकार मुझे जेल भेजना चाहती है- केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि ये लोग मुझे गिरफ्तार करके जेल भेजना चाहते हैं, जिससे मैं आगामी लोकसभा चुनावों में पार्टी के लिए प्रचार ना कर सकूं। इनके पास मेरे खिलाफ किसी भी मामले में कोई सबूत नहीं है, इसके बावजूद ED मुझे नोटिस पर नोटिस भेजकर परेशान कर रही है। ये लोग सोच रहे हैं कि मैं ऐसे झूठे नोटिसों से डर जाऊंगा तो यह गलत सोच रहे हैं।

‘हम दिल्ली और पंजाब की सभी सीटें जीत रहे’

चुनावी सभा में केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी आगामी लोकसभा चुनावों में पंजाब की 13 की 13 और दिल्ली की 7 की 7 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करेगी। केजरीवाल का यह बयान कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

बता दें कि दोनों दल इंडिया गठबंधन के सदस्य हैं और अभी तक सीट बंटवारे को लेकर बात फाइनल नहीं हुई है। वहीं अब जब केजरीवाल ने यह ऐलान किया है तो इससे कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं।

वहीं इससे पहले कहा जा रहा था कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच दिल्ली, हरियाणा और गोवा राज्यों में गठबंधन का फॉर्मूला तय हो चुका है और पंजाब पर बातचीत जारी है। लेकिन अब केजरीवाल के इस बयान ने पिछली खबरों पर भी सवालिया निशान लगा दिया है।