प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (04 अप्रैल) को जमुई में जनसभा को संबोधित करते हुए आरजेडी पर जमकर हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि आप देखिए एक तरफ एनडीए सरकार है जो नए उद्योग लगाने की बात करती है, दूसरी ओर ये लोग हैं जिनकी पहचान अपहरण रही है. पीएम ने कहा कि एनडीए सरकार गरीबों की उनकी जमीन का प्रॉपर्टी कार्ड दे रही. आरजेडी के लोग गरीबों की जमीन पर कब्जा कर रहे हैं. आरजेडी के समय जंगलराज में बेटियों को सड़कों से उठा लिया जाता था.

पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के करीब 9 करोड़ जरूरतमंदों को मुफ्त राशन मिल रहा है और मोदी की गारंटी है अगले पांच साल भी मिलता रहेगा. बिहार में 84 लाख से ज्यादा आयुष्मान कार्ड भी बने हैं इसलिए ही मैं कहता हूं जब नीयत सही तो नतीजा सही. आज बिहार के 85 लाख से ज्यादा किसानों को पीएम किसान निधि सम्मान का लाभ मिल रहा है. जमुई में इस योजना के तहत 850 करोड़ रुपये से अधिक उनके बैंक खाते में पहुंचे हैं.

आरजेडी के साथ कांग्रेस पर भी हमला

पीएम मोदी ने कहा, “अगर घमंडिया गठबंधन की सरकार होती तो आपके बैंक खाते में सीधा पैसे भेजने वाली व्यवस्था बनती क्या? हो सकता था क्या? आरजेडी-कांग्रेस आपके हक के सारे पैसे लूट लेते. आपसे साइन भी करा लेते कि हां पैसा मिल गया है. आज देश के सारे भ्रष्टाचारी जो हमेशा एक-दूसरे से लड़ते थे, एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते थे, जेल में बंद करने की मांग करते थे वो सब मिलकर आज कहते हैं मोदी आया.”

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के गौरव कर्पूरी ठाकुर को हमने भारत रत्न दिया. इन लोगों (विपक्ष) ने उसका विरोध किया. पीएम मोदी ने कहा कि 19 अप्रैल को आपको इन गरीब विरोधी लोगों को अपने वोट से चुन-चुनकर साफ करना है. अंत में लोगों से कहा कि आपको मेरा एक और काम कर रहा है. घर-घर जाकर लोगों को बताएं कि हम आए थे. मेरा प्रणाम हर परिवार को पहुंचाएं.