रेलवे पर लगा जुर्माना, प्लेटफॉर्म से आगे रुकी थी ट्रेन, बुजुर्ग ने उठाया मामला

ट्रेन के प्लेटफॉर्म से आगे रुकने को लेकर भारतीय रेलवे पर जुर्माना लगाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, गुजरात के अंकलेश्वर रेलवे स्टेशन पर एक ट्रेन प्लेटफॉर्म से आगे रुकी थी। इस वजह से चेन्नई के बुजुर्ग व्यक्ति को पटरी पर कूदना पड़ा। इस मामले में अब रेलवे को 30,000 रुपये का जुर्माना भरना होगा। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट में बताया गया कि यह घटना दिसंबर, 2021 की है। केवी रमेश कांचीपुरम जिले के अगाराम के रहने वाले हैं। वह नवजीवन सुपर-फास्ट एक्सप्रेस में दूसरे A/C कोच से अंकलेश्वर तक यात्रा कर रहे थे।

रमेश ने इस घटना को लेकर चेन्नई (नॉर्थ) जिला उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग में शिकायत की थी। उन्होंने अपनी याचिका में कहा कि बोगी और 3 अन्य ए/सी कोच प्लेटफॉर्म के बाहर रुके। इस वजह से वह नीचे नहीं उतर पाए और फिर कूदने का प्रयास किया जिससे वह घायल हो गए। इस मामले को लेकर रेलवे की ओर से कहा गया कि अंकलेश्वर में प्लेटफॉर्म विस्तार घटना के 10 महीने बाद अक्टूबर 2022 में पूरा हुआ। आखिरकार आयोग ने रेलवे को सर्विस में कमी का दोषी पाया। इसके लिए शिकायतकर्ता को 25,000 रुपये और मुकदमेबाजी खर्च के तौर पर 5,000 रुपये का भुगतान करने का आदेश दिया गया।

दूसरी ओर, रेलवे ने त्योहारी मौसम में यात्रा को आसान बनाने के लिए 1,700 विशेष रेलगाड़ियां चलाई हैं जिससे 26 लाख नई सीट उपलब्ध हुई हैं। रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि दिवाली और छठ पूजा के कारण यात्रियों की भारी भीड़ को कम करने के लिए ये अतिरिक्त रेलगाड़ियां चलाई जा रही हैं। अधिकारी ने कहा, ‘यात्रियों की सुविधा के लिए 26 लाख अतिरिक्त सीट उपलब्ध कराई गई हैं।’ रेलगाड़ियों में आरक्षित सीट की मांग बहुत अधिक है, जिससे त्योहारी मौसम में त्योहार में शामिल होने के लिए घर जाने की योजना बना रहे लोगों को आरक्षित सीट प्राप्त करने में मुश्किल हो रही है।