• Sat. Dec 10th, 2022

IND vs NZ: कप्तान शिखर धवन की इस छोटी सी गलती की वजह से 306 रन बनाकर भी हारा भारत, नहीं तो भारत की जीत थी पक्की!

BySumit Kumar

Nov 25, 2022

एकदिवसीय सीरीज के पहले मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को 7 विकेट से हरा दिया है. न्‍यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. भारत के तरफ श्रेयस अय्यर, शुभमन गिल और कप्तान शिखर धवन ने शानदार अर्द्धशतकीय पारी खेली और न्यूजीलैंड को 307 रन का लक्ष्य दिया. जवाब में न्यूजीलैंड ने यह लक्ष्य 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया और मैच 7 विकेट से जीत लिया।

भारत ने दिया था 307 रन का लक्ष्य

पहले वनडे में टाॅस जीतकर न्यूजीलैंड ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने आई भारतीय टीम की शुरुआत शानदार रही. दोनो सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और शुभमन गिल ने अर्धशतक जड़ा. जहाँ एक तरफ से शुभमन गिल ने 65 गेंदो में 1 चौके और 3 छक्कों की मदद से 50 रनों की पारी खेली तो दूसरी तरफ कप्तान शिखर धवन ने भी 72 रन बनाए।

भारत के तरफ से इस मैच में सबसे ज्यादा रन श्रेयस अय्यर ने बनाया. अय्यर ने 76 गेंदो में 4 चौके और 4 छक्के की मदद से 80 रनों की पारी खेली. अंत में पारी को गति देते हुए वाशिंगटन सुंदर ने तेजतर्रार बल्लेबाजी की. सुंदर ने 16 गेंदो में 3 चौके और 3 छक्के की मदद से 37 रनों की पारी खेली और भारत के स्कोर को 300 के पार पहुंचाया।

न्यूजीलैंड के तरफ से सबसे सफल गेंदबाज साउथी और फर्ग्यूसन रहे. दोनो ने टीम के लिए 3-3 विकेट अपने नाम किया. वहीं एडम मिल्ने को भी एक सफलता मिली।

न्यूजीलैंड 7 विकेट से जीता

307 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरुआत बहुत बेहतर नही रही और सलामी बल्लेबाज फिन एलेन 22 और डेवोन काॅनवे 24 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. डेरिल मिचेल भी कुछ ख़ास नही कर सके और 11 रन बनाकर उमरान मलिक का शिकार बन गए।

इसके बाद टाॅम लाथम और कप्तान केन विलियम्सन के बीच मैच जिताऊ साझेदारी हुई. टाॅम लाथम ने शानदार शतक जड़ा, उन्होंने 145 रनों की पारी खेली. केन विलियम्सन ने 94 रन बनाए. इन पारियों की मदद से न्यूजीलैंड आसानी से मैच जीत गया।

शिखर धवन की ये गलती बनी हार की वजह

कप्तान शिखर धवन ने आज बेहद ही खराब कप्तानी का परिचय दिया. एक समय जब भारत को विकेट की जरूरत थी, तो उनके पास सबसे सफल गेंदबाज वाशिंगटन सुंदर का ओवर खत्म हो चूका था. वहीं आज वो एकदम नई टीम के साथ मैदान में उतरे थे, उन्होंने 2 खिलाड़ियों को आज डेब्यू का मौका दिया था और ये दोनों ही गेंदबाज उनके प्रमुख गेंदबाज थे।