इंडिया गठबंधन की ओर से मांग है कि चुनाव के दौरान विपक्षी राजनीतिक दलों का आर्थिक रूप से गला घोटने का प्रयास हो रहा है।ये बंद होना चाहिए।

INDIA गठबंधन की राजधानी दिल्ली के रामलीला मैदान में विपक्ष की महारैली हुई. इस दौरान इंडिया गठबंधन की ओर से 5 सूत्रीय मांग रखी है.  मांग में कहा गया है कि चुनाव आयोग को लोकसभा चुनावों में समान अवसर तय करना होगा. चुनाव आयोग को चुनाव में हेराफेरी करने के लक्ष्य से विपक्षी दलों के खिलाफ जांच एजेंसियों की ओर से होने वाली कार्रवाई को रोकना चाहिए. इसके साथ ही ये भी मांग की गई कि झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की तुरंत रिहाई की जानी चाहिए।

आपको बता दें कि ईडी ने हेमंत सोरेन को जमीन घोटाले और अरविंद केजरीवाल को शराब घोटाले में गिरफ्तार किया है. इंडिया गठबंधन की ओर से डिमांड की गई है कि चुनाव के दौरान विपक्ष राजनीतिक दलों का आर्थिक रूप से गला दबाने की कोशिश हो रही है. इस तरह जबरन कार्रवाई को तत्काल बंद कर देना चाहिए. इसके साथ चुनावी चंदे का उपयोग करके BJP की ओर से बदले की भावना, जबरन वसूली और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जांच को लेकर सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में SIT का गठन करना चाहिए।

इंडिया ब्लॉक के ये नेता हुए महारैली में शामिल 

आपको बता दें कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के बाद एकजुटता दिखाने के लिए  रविवार को रामलीला मैदान में इंडिया ब्लॉक की महारैली की गई. इस दौरान लोकतंत्र और संविधान को बचाने का आह्वान किया गया. इस महारैली में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी शामिल हुए. इसके अलावा एनसीपी (शरतचंद्र पवार) के शरद यादव, नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला, शिवसेना (यूबीटी) प्रमुख उद्धव ठाकरे सहित वामपंथी नेता सीताराम येचुरी, डीराजा, दीपांकर भट्टाचार्य, समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव, आरजेडी के तेजस्वी यादव और टीएमसी के डेरेक ओ ब्रायन भी शामिल हुए।

कल्पना सोरेन ने भी सभा को संबोधित किया

कल्पना सोरेन और सुनीता केजरीवाल ने सभा को संबोधित किया. सीएम केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और झामुमो नेता हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन ने केंद्र सरकार पर जमकर प्रहार किया. उन्होंने भ्रष्टाचार के मामलों अपने पतियों की गिरफ्तारी पर आलोचना की है. सुनीता केजरीवाल ने इस दौरान अपने पति का एक पत्र भी पढ़ा।