जमीयत उलेमा-ए-हिंद के बंगाल अध्यक्ष व ममता बनर्जी सरकार में पुस्तकालय मंत्री स‍िद्दीकुल्ला चौधरी ने ज्ञानवापी में पूजा-पाठ बंद करने की मांग की है। उन्होंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर योगी कोलकाता आए तो उन्हें निकलने नहीं देंगे।

स‍िद्दीकुल्ला चौधरी ने क्या कुछ कहा?

सिद्दीकुल्ला ने शुक्रवार को कहा कि योगी आदित्यनाथ अगर कोलकाता आते हैं, तो वे और उनका संगठन उनका घेराव करेगा। उन्होंने कहा,

ज्ञानवापी में चल रहा पूजा पाठ तुरंत बंद होना चाहिए और अगर ऐसा नहीं होता है तो वो इसका बड़ा विरोध करेंगे।

फलस्तीन के समर्थन में निकाल चुके हैं मार्च

चौधरी पहले भी कई मौके पर विवादों में रह चुके हैं। बीते साल अक्टूबर में इजरायल और हमास (Israel-Hamas War) के बीच जंग को लेकर मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने फलिस्तीन के समर्थन में कोलकाता में विरोध मार्च भी निकाला था। विरोध मार्च के बाद जमीयत के द्वारा एक रैली भी आयोजित की गई थी जिसमें सिद्दीकुल्ला ने इजरायल का समर्थन करने को लेकर पीएम मोदी पर सवाल उठाया था।

इससे पहले 2019 में बांग्लादेश सरकार ने सिद्दीकुल्ला चौधरी को वीजा देने से इनकार कर दिया था। सिद्दीकुल्ला को कुछ व्यक्तिगत प्रतिबद्धताओं में भाग लेने के अलावा बांग्लादेश के सिलहट में एक मदरसे के शताब्दी समारोह में भाग लेना था, लेकिन उन्हें वापस लौटना पड़ा था।