लोजपा (रामविलास) ने बिहार में 5 लोकसभा सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम तय कर लिये हैं. हालांकि दो सीटों पर प्रत्याशियों के नाम पहले से ही तय था. लेकिन बाकी बचे तीन सीटों पर भी उम्मीदवारों को चुन लिया गया है. पार्टी ने आधिकारिक तौर पर अपने पांच उम्मीदवारों के नाम का एलान कर दिया है.

शुक्रवार को पटना से दिल्ली रवाना रहे लोजपा (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि उऩकी पार्टी ने अपने उम्मीदवारों के नाम तय कर लिये हैं. चिराग पासवान ने कहा कि शुक्रवार की रात या शनिवार की सुबह लोजपा(रामविलास) के पांचों उम्मीदवारों के नाम का एलान कर दिया जायेगा. लोजपा(रामविलास) को एनडीए के सीट बंटवारे में पांच सीट मिली है. शनिवार की शाम पार्टी ने उम्मीदवारों के नाम का आधिकारिक एलान कर दिया है.

किसको मिला लोजपा का टिकट?

लोजपा(रामविलास) को हाजीपुर, वैशाली, जमुई, समस्तीपुर और खगडिया सीट मिली है. इन पांच में से दो सीटों के उम्मीदवार पहले से तय थे. चिराग पासवान खुद हाजीपुर सीट से उम्मीदवार हैं. जमुई से उन्होंने अपने बहनोई अरूण भारती को उम्मीदवार बनाया है. अरूण भारती जमुई से नामांकन भी कर चुके हैं.

अशोक चौधरी की बेटी को टिकट

चिराग पासवान ने समस्तीपुर लोकसभा सीट से नीतीश के करीबी मंत्री अशोक चौधरी की बेटी शांभवी चौधरी को उम्मीदवार बनाया है. शांभवी की शादी आचार्य किशोर कुणाल के बेटे से हुई है. चर्चा ये है कि अपनी बेटी को टिकट दिलाने के लिए अशोक चौधरी ने पूरा जोर लगाया था.

वीणा देवी को वैशाली से टिकट

वैशाली सीट से मौजूदा सांसद वीणा देवी को टिकट मिला है. वीणा देवी भी पशुपति पारस के साथ चली गयी थीं.

खगड़िया से राजेश वर्मा

सबसे दिलचस्प उम्मीदवार खगड़िया से उतारा गया है. खगड़िया से राजेश वर्मा को टिकट दिया गया है. राजेश वर्मा भागलपुर के रहने वाले हैं. वे पिछला विधानसभा चुनाव लोजपा के टिकट पर लड़े थे.