उत्तराखंड के हलद्वानी के बनभूलपुरा में हुई हिंसा ने पूरे देश को झकझोर के रख दिया है। हालात ऐसे हो गए कि प्रशासन को कर्फ्यू लगाना पड़ा और दंगाइयों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया गया। अब राज्य के डीजीपी अभिनव कुमार ने शुक्रवार को कहा है कि हलद्वानी में पुलिस कर्मियों पर हमला करने और आगजनी और तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ कड़े राष्ट्रीय सुरक्षा कानून यानी NSA के तहत कार्रवाई की जाएगी। डीजीपी ने एडीजी और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के परामर्श से स्थिति का आकलन करने के लिए हिंसा प्रभावित शहर का दौरा भी किया है। इस बीच पुलिस की ओर से हिंसा में जान गंवाने वाले लोगों के नाम भी जारी कर दिए गए हैं।

ये रहे जान गंवाने वाले लोगों के नाम

जिला सूचना अधिकारी नैनीताल की ओर से हलद्वानी में हुई हिंसा में मृतकों के नाम जारी कर दिए गए हैं। शासन द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, बीती रात हिंसा की घटना में कुल 05 लोगों की मृत्यु हो गई थी। जिसमें फईम कुरैशी, जाहिद, मो. अनस, शब्बान व प्रकाश कुमार के मृतक के रूप पहचान की गई हैं। इसके अलावा बेस चिकित्सालय में 07, कृष्णा चिकित्सालय में 03, सुशीला तिवारी चिकित्सालय में 03, तथा बृजलाल चिकित्सालय में 01 घायल का उपचार चल रहा है।

स्थिति फिलहाल नियंत्रण में

डीजीपी अभिनव कुमार ने कहा है कि कर्फ्यू लगाने से स्थिति काफी हद तक नियंत्रण में आ गई है, लेकिन फिलहाल प्रयास अगले 24 घंटों के भीतर शहर में सामान्य स्थिति वापस लाने पर केंद्रित हैं। शहर में भड़की हिंसा के बाद पूरे राज्य में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं, केंद्रीय सुरक्षाबलों की कई कंपनियों को भी हिंसा पर काबू पाने के लिए बुलाया गया है।

सीएम धामी ने किया हल्द्वानी का दौरा

सीएम पुष्कर सिंह धामी बनभूलपुरा में हिंसा के बाद स्थिति का जायजा लेने के लिए हल्द्वानी पहुंचे। इस दौरान अस्पताल पहुंचकर उन्होंने पीड़ितों से भी मुलाकात की। इस दौरान सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रशासन द्वारा न्यायालय के आदेश के क्रम में अतिक्रमण को हटाने का काम चल रहा था। वहां पर सुनियोजित तरीके से प्रशासन पर हमला किया गया है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने भी ये गलत काम किया है, उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।