बिहार में एक लाख उपभोक्ता स्मार्ट मीटर एप का उपयोग कर रहे, जानें App की खासियत

प्रीपेड स्मार्ट मीटर के बेहतर संचालन के लिए बिजली कंपनी ने बिहार बिजली स्मार्ट मीटर एप बनाया है। इस एप के माध्यम से स्मार्ट प्रीपेड मीटर के उपभोक्ता सभी तरह की जानकारी प्राप्त कर रहे हैं। बिहार में अभी एक लाख प्रीपेड मीटर उपभोक्ता इस एप का उपयोग कर रहे हैं। बिहार बिजली स्मार्ट मीटर एप एंड्रायड मोबाइल के साथ-साथ आईओएस प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध है।

इसी क्रम में शुक्रवार को इनर्जी इफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) और इनटेली स्मार्ट की ओर से राउंड टेबल कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया जिसमें डिजिटल स्मार्ट ग्रिड पर चर्चा हुई। बिहार से इस कांफ्रेंस में ऊर्जा सचिव सह बिजली कंपनी के सीएमडी संजीव हंस, साउथ बिहार कंपनी के एमडी संजीवन सिन्हा, नॉर्थ बिहार कंपनी के एमडी संदीप कुमार आर पुडकलकट्टी शामिल हुए। कॉन्फ्रेंस के दौरान ही बिहार बिजली स्मार्ट मीटर एप को राष्ट्रीय स्तर पर लांच किया गया।

मोबाइल एप की खासियत
गुगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करना होगा। उपभोक्ताओं को नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी भरकर पंजीकरण कराना होगा। ओटीपी मिलने पर पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इसके बाद उपभोक्ता इस मोबाइल एप पर अपना प्रोफाइल, दैनिक जानकारी में तात्कालिक उपयोग और रीडिंग, उपयोग का स्वरूप, भुगतान की सुविधा, बिजली बिल की जानकारी ले सकते हैं। पंजीकृत उपभोक्ता चाहें तो वप्रीपेड मीटर को इससे रिचार्ज भी करा सकते हैं। एक ही लॉगिन से एक से अधिक कनेक्शन की जानकारी देखी जा सकती है।

बिजली के क्षेत्र में बिहार ने अभूतपूर्व प्रगति की है। हर गांव से लेकर हर घर तक हमने समय से पहले बिजली पहुंचाई है। प्रीपेड स्मार्ट मीटर में भी बिहार बेहतर काम कर रहा है, जिसका अनुसरण अब देश करेगा।
– बिजेन्द्र प्रसाद यादव, ऊर्जा मंत्री, बिहार 

इसे भी देश ने अपनाया
– हर घर बिजली योजना को सौभाग्य योजना से देश भर में लागू किया गया
– अनुदानरहित बिजली दर सौंपे जाने को केंद्र ने सराहा, दूसरे राज्य कर रहे अनुसरण
– हर घर बिजली एप का प्रयोग बिहार ने किया जिसे बाद में सभी राज्यों ने अपनाया
– स्मार्ट प्रीपेड मीटर योजना की केंद्र कर चुका है अनुशंसा, दूसरे राज्य अपना रहे हैं

Leave a Reply