पूर्णिया लोकसभा सीट इस समय सुर्खियों में बनी हुई है। राजद की बीमा भारती के खिलाफ अब कांग्रेस नेता पप्पू यादव ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की ठान ली है। पप्पू यादव ने पूर्णिया लोकसभा सीट से नामांकन भी दाखिल कर दिया है। नामांकन दाखिल करने के दौरान पप्पू यादव ने शक्ति प्रदर्शन भी किया।

पप्पू यादव ने नामांकन दाखिल करने के बाद साफ कहा कि वे निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव जरूर लड़ रहे हैं, लेकिन उनको कांग्रेस का समर्थन प्राप्त है। हालांकि, अब कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश का बयान सामने आया है। जिसने पूर्णिया के चुनाव को और दिलचस्प बना दिया है।

NDA को होगा फायदा?

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने कहा है कि उन्होंने पप्पू यादव को नामांकन करने के लिए नहीं बोला। साफ है कांग्रेस में पप्पू यादव को लेकर कोई एक राय नहीं बन रही है। कांग्रेस का एक धड़ा पप्पू के नामांकन से खफा नजर आ रहा है। देखने वाली बात होगी कि क्या पप्पू और बीमा भारती की सियासी जंग का फायदा कहीं एनडीए उठा पाएगा?

‘मुझे राहुल और प्रियंका का आशीर्वाद प्राप्त’

पप्पू यादव ने नामांकन दाखिल करने के बाद कहा कि राहुल गांधी व प्रियंका गांधी का आर्शीवाद प्राप्त है। उन्होंने ये भी कहा कि उनके राजनीतिक जीवन को खत्म करने की बड़ी साजिश रची गई थी, जो अब ध्वस्त हो गई है।

पप्पू यादव ने खुलकर तो नहीं, लेकिन इशारों ही इशारों में लालू यादव की राष्ट्रीय जनता दल पर भी निशाना साधा। साथ यह भी कहा कि प्रदेश में कांग्रेस व इंडी गठबंधन को जिताने का हर प्रयास वे करेंगे।