बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित टीचर बहाली परीक्षा के तहत सफल हुए शिक्षक जो राज्य के अलग अलग स्कूल में अपना योगदान दें रहे हैं उनको लेकर एक नया आदेश जारी कर दिया गया है।

शिक्षा विभाग के एसीएस के तरफ से यह आदेश जारी किया गया है कि जो अभ्यर्थी प्रथम चरण (TRE-1) में टीचर के पद पर चयनित होकर स्कूल में बच्चे को पढ़ा रहे हैं और उनका सलेक्शन दूसरे चरण में भी हुआ है। ऐसे टीचरों का त्यागपत्र मंजूर होने के बाद ही दूसरे चरण के तहत ज्वॉइनिंग कराएं।

शिक्षा विभाग की तरफ से बिहार लोक सेवा आयोग से चयनित शिक्षकों के लिए अहम दिशा-निर्देश जारी हुआ है। इस संबंध में अपर मुख्य सचिव केके पाठक के निर्देश पर माध्यमिक शिक्षा निदेशक कन्हैया प्रसाद श्रीवास्तव ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी (DEO) को पत्र लिखा है।

आपको बताते चलें कि, TRE-2 के तहत वैसे अभ्यर्थियों का भी चयन हुआ है जो पहले चरण में सफल होकर स्कूलों में सेवा दे रहे हैं। ऐसे शिक्षकों की संख्या लगभग 25 हजार है। गृह जिला के नजदीक या फिर गृह जिला में आने को लेकर पहले चरण की नियुक्ति को छोड़कर दूसरे चरण में योगदान दे रहे हैं। बिहार में पहले चरण में एक लाख 10 हजार और सेकेंड फेज में 96 हजार शिक्षकों का चयन हुआ था।