ऑस्ट्रेलियाई टीम पर भड़के पोंटिंग, कहा- सीरीज हुई ड्रॉ तो होगा हार से भी बुरा नतीजा

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच ब्रिस्बेन में गाबा के मैदान पर खेला जा रहा है, जो कि 4 मैचों की सीरीज का डिसाइडर मैच भी है, हालांकि गाबा के मैदान पर खेला जा रहा यह मैच भी ड्रॉ की ओर जाता नजर आ रहा है। फिलहाल सीरीज में भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं। जहां एडिलेड में खेले गये पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने जीत हासिल की थी तो वहीं पर भारतीय टीम ने मेलबर्न में जीत हासिल की थी। सिडनी में खेला गया तीसरा मैच भारतीय टीम की जुझारू बल्लेबाजी के चलते ड्रॉ रहा था।

वहीं गाबा में खेले जा रहे आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत के सामने जीत के लिये आखिरी पारी में 328 रनों का लक्ष्य रखा है और भारतीय टीम को 324 रनों की दरकार है। हालांकि गाबा में आखिरी दिन 80 फीसदी बारिश का पूर्वानुमान है जिसके चलते आखिरी दिन 90 ओवरों का खेल हो पाना असंभव लग रहा है। वहीं गाबा के मैदान का इतिहास रहा है कि यहां पर 236 रनों से ज्यादा चेज नहीं हुआ है। ऐसे में इस मैच के ड्रॉ होने की संभावना ज्यादा नजर आ रही है।

वहीं इसी संभावना पर बात करते हुए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि अगर भारत इस सीरीज को ड्रॉ करने में कामयाब होता है तो यह कंगारू टीम के लिये 2018-19 में मिली सीरीज हार से ज्यादा बुरा होगा।

क्रिकेट डॉट कॉम एयू से बात करते हुए पोंटिंग ने कहा,लगभग 10 खिलाड़ियों के चोटिल होकर बाहर हो जाने के बाद भी भारतीय टीम ने जिस तरह से जीतने का जज्बा और जुझारूपन दिखाया है वह काबिल ए तारीफ है। गाबा में भारतीय टीम ने सिर्फ अपने प्रमुख बल्लेबाजों बल्कि प्रमुख गेंदबाजों के बगैर खेलने उतरा है। ऐसे में अगर भारत सीरीज को ड्रॉ कराने में कामयाब रहता है तो यह एक साल पहले मिली हार से भी बुरा होगा।’

पोंटिंग ने आगे इस पर बात करते हुए कहा कि मैं इसे भारतीय टीम के नजरिये से देख रहा हूं जिसके 20 खिलाड़ी दौरे पर आये थे और उसे गाबा में प्लेइंग 11 चुनने में कितनी परेशानी हुई। वहीं हमारे लिये आखिरी 2 टेस्ट मैच में वॉर्नर और स्मिथ दोनों खेले हैं जो कि पिछले दौरे पर नहीं थे। ऐसे में सीरीज का ड्रॉ होना न सिर्फ हार होगी बल्कि पिछली बार मिली हार से भी बुरा नतीजा होगा।

पोंटिंग का मानना है कि मैच के आखिरी दिन भारत फिर से इस जुझारूपन को जारी रखने की कोशिश करेगा और कुछ गलतियां जरूर करेगा, ऑस्ट्र्रेलिया को जीतने के लिये उन गलतियों को भुनाना होगा।

उन्होंने कहा,’भारत अपने जुझारूपन को लगातार जारी नहीं रख सकता, वह एक ऐसा मौका तो जरूर देगा जब वो कमजोर पड़ेगा। मुझे उम्मीद है कि कल ऐसा हो सकता है। वो ड्रॉ के लिये खेलते हुए कुछ गलतियां जरूर करेंगे। वहीं ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिये अपना सबकुछ झोंकने को तैयार रहना होगा।’

Leave a Reply