देश के अंदर आगमी कुछ महीनों में लोकसभा का चुनाव होना है और इस चुनाव को लेकर देश की तमाम छोटी बड़ी राजनीतिक पार्टियां अपनी काजगी रणनीती को धरातल पर उतार मैदान फतह करने में लग गई है। इन सबके बीच अब जो एक सर्वे रिपोर्ट निकलकर सामने आई है वह भाजपा को थोड़ा मुश्किल में डाल सकती है। उनका को मिशन 400 का जो टारगेट हैं उसमें थोड़ा दक्का लग सकता है।

दरअसल, लोकसभा चुनाव की तैयारियों के बीच आया एक सर्वे भारतीय जनता पार्टी के लिए राहत देने वाला है तो थोड़ा टेंशन भी दे सकती है। इस सर्वे के अनुसार यह अनुमान लगाया जा रहा है कि उत्तर, पश्चिम और पूर्व में भाजपा की अगुवाई वाली NDA यानी नेशनल डेमोक्रेटिक अलायंस का डंका बजने वाला है। हालांकि, दक्षिण भारत के राज्यों में NDA विपक्षी गठबंधन INDIA से पिछड़ता नजर आ रहा है।

एक निजी टीवी चैनल में प्रकाशित मूड ऑफ द नेशन सर्वे से संकेत मिल रहे हैं कि दक्षिण भारत के राज्यों की 132 लोकसभा सीटों में से एनडीए के खाते में सिर्फ 27 सीटें ही आती नजर आ रही हैं।

जबकि, विपक्षी गठबंधन INDIA 76 सीटें अपने नाम करने में सफलता हासिल कर सकता है। इनके अलावा 29 सीटें अन्य के खाते में जा सकती हैं। हालांकि, ये अंतिम आंकड़े नहीं हैं। भारत निर्वाचन आयोग (ECI) की तरफ से चुनाव कार्यक्रम का ऐलान होना अभी बाकी है।

सर्वे के अनुसार, उत्तर भारत की 180 लोकसभा सीटों में से एनडीए 154 का विशाल स्कोर खड़ा कर सकती है। यहां विपक्षी गठबंधन INDIA सिर्फ 25 सीटें जीतती नजर आ रही है। पूर्वी राज्यों में विपक्षी गठबंधन के 38 सीटों पर जीत हासिल करने के आसार हैं। वहीं, एनडीए 103 सीटें अपने नाम करने में कामयाब हो सकता है। यहां कुल सीटों की संख्या 153 है।

आपको बताते चलें कि, साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा को केरल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में कोई भी सीट नहीं मिल सकी थी। जबकि, पार्टी ने कर्नाटक में 25 सीटें जीतने में सफलता हासिल की थी। इसके अलावा पार्टी तेलंगाना में भी 4 सीटें जीती थी।