सीवान जिले के स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल, मरीज की बेड पर सोते हैं कुत्ते

बिहार में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था का सरकार दावा करती है लेकिन स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के गृह क्षेत्र से निकलकर जो तस्वीरें सामने आई है। जिसे देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे। सीवान सदर अस्पताल की इन तस्वीरों को देखकर यह फर्क करना मुश्किल हो जाएगा कि कुत्तों के बीच मरीज है या मरीजों के बीच कुत्ते..

सीवान सदर अस्पताल की यह तस्वीरें पुरुष वार्ड की है। जहां एक तरफ मरीज बेड पर सोया हुआ हैं वहीं दूसरी ओर मरीजों के बगल वाले बेड पर आवारा कुत्ते सोया है। सदर अस्पताल के पुरुष वार्ड के बेड पर आवारा कुत्तों का कब्जा है। इस वीडियो के सामने आने के बाद स्वास्थ्य महकमा में हड़कंप मचा हुआ है।

सीवान सदर अस्पताल में कुत्तों का दिखना कोई नहीं बात नहीं है। इससे पहले भी इसी तरह का मामला पहले भी सामने आ चुका है। इस बार भी यह मामला अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही को दिखाने का काम कर रहा है। अभी एक सप्ताह पहले ही एक महिला मरीज को घेरकर उसका खाना खाते कुत्तों का वीडियो तेजी से वायरल हुआ था। लेकिन इस मामले में कोई कार्रवाई सिविल सर्जन ने नहीं की। और अब तो फिर से एक वीडियो सामने आ गया है। यह वीडियो भी तेजी से वायरल हो रहा है।

पुरुष वार्ड के पास ही सिविल सर्जन का चैम्बर है उनकी नजर वार्ड में घुसे इन आवारा कुत्तों पर पड़ी होगी। यह जानने के लिए जब सिविल सर्जन यदुवंश शर्मा से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि मुझे भी इस बात की जानकारी है। सुरक्षाकर्मियों की थोड़ी लापरवाही है। जिसे देख लिया जाएगा।

ऐसे में अब सवाल यह उठता है कि अस्पताल के वार्ड में घुसे आवारा कुत्तों ने यदि किसी मरीज या उनके परिजनों को काट लिया तो इसके लिए जिम्मेवार कौन होगा? इस तरह का हाल खुद बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के गृह जिले का है। जो स्वास्थ्य व्यवस्था पर बड़ा सवाल खड़ा कर रहा है।