युवक ने बैंक में घुस कर्मचारियों को बनाया बंधक, कहा- मेरा पैसा मुझे दे दो

लेबनान की राजधानी बेरूत में एक बंदूकधारी शख्स गुरुवार को एक बैंक में घुस गया और वहां मौजूद ग्राहकों और कर्मचारियों को बंधक बना लिया। हथियारबंद शख्स मांग कर रहा है कि बैंक में जो पैसे उसने जमा किए हैं, वे उसे दे दिए जाएं, नहीं तो वह खुद को आग लगा लेगा। एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि शख्स की पहचान 42 वर्षीय बस्सम अल-शेख हुसैन के तौर पर हुई है जो बेरूत के हमरा जिले में फेडरल बैंक में घुस गया है। उसके पास ज्वलनशील पदार्थ से भरा कनस्तर है और उसने 6-7 कर्मचारियों को बंधक बनाया हुआ है।

बैंक में फंसे हैं शख्स के 2 लाख डॉलर

बैंक एम्प्लॉइज सिंडिकेट के प्रमुख जॉर्ज अल हज ने स्थानीय मीडिया को बताया कि 7-8 कर्मचारियों के साथ ही 2 ग्राहकों को भी उसने बंधक बना लिया है। अधिकारियों के मुताबिक, व्यक्ति ने चेतावनी देने के लिए 3 गोलियां चलाईं। बताया जा रहा है कि बैंक में उसके करीब 2 लाख डॉलर (लगभग 1.6 करोड़ रुपये) फंसे हुए हैं। बता दें कि लेबनान की आर्थिक हालत पिछले कुछ सालों में बद से बदतर हुई है। इस देश में 2019 के अंत से ही कैश की कमी है और बैंकों से विदेशी करंसी निकालने पर बेहद कड़े प्रतिबंध लागू किए गए हैं।

सुरक्षाकर्मियों ने पूरे इलाके को घेरा

बंधक संकट से निजात दिलाने के लिए लेबनान के सैनिकों, खुफिया एजेंटों और देश के आंतरिक सुरक्षा बल के पुलिस अधिकारियों ने इलाके को घेर लिया है। अधिकारी हुसैन से बातचीत कर किसी समाधान पर पहुंचने की कोशिश में हैं लेकिन उन्हें अब तक कामयाबी नहीं मिली है। हुसैन ने एक बंधक को छोड़ कर दिया है जिसे एंबुलेंस से ले जाया गया है। इससे पहले मोबाइल से शूट किए गए एक वीडियो में दिख रहा था कि शख्स हाथ में शॉटगन लिए हुए है और अपने पैसे वापस मांग रहा है।

‘पिता के इलाज के लिए’ पैसे मांग रहा शख्स

एक और वीडियो सामने आया है जिसमें पुलिस के 2 अफसर उससे कम से कम एक बंधक को आजाद करने की गुजारिश कर रहे हैं। हालांकि अफसरों की अपील का शख्स पर कोई असर नहीं हुआ और उसने किसी को भी रिहा करने से इनकार कर दिया। घटना में बच निकले बैंक के एक ग्राहक ने स्थानीय मीडिया को बताया कि वह अस्पताल में भर्ती अपने पिता के इलाज के लिए अपने जमा किए गए पैसों में से 2 हजार डॉलर दिए जाने की मांग कर रहा है।