जेडीयू की विधायक दल की बैठक में चार विधायकों के शामिल नहीं होने के बाद नीतीश सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले बड़े सियासी उलटफेर की बात कही जा रही है। कहा जा रहा है कि लालू और तेजस्वी जिस खेल की बात कर रहे थे वे उसमें सफल होते दिख रहे हैं हालांकि नीतीश सरकार में मंत्री बने सुमित सिंह ने दावा किया है कि जो चार विधायक बैठक में नहीं पहुंचे हैं वे भी पहुंच जाएंगे।

दरअसल, निर्दलीय विधायक से मंत्री बने सुमित सिंह जेडीयू विधायक दल की बैठक में शामिल होने के लिए मंत्री विजय चौधरी के आवास पर पहुंचे थे। बैठक में शामिल होने के थोड़ी देर बाद ही वे बाहर निकल गए। बैठक से बाहर आने के बाद उन्होंने दावा किया कि जो चार विधायक बैठक में नहीं पहुंचे हैं उनसे बात हो गई है वे आ रहे हैं।

सुमित सिंह ने बड़े खेल से इनकार करते हुए कहा कि सभी विधायक रास्ते में हैं और बैठक में पहुंच रहे हैं। कोई खेला नहीं होने जा रहा है, हमलोग पहले ही कह चुके हैं कि खिलाड़ी तो हमलोग है, हम ही खेला करेंगे। विधायकों का मोबाइल बंद होने के सवाल पर सुमित सिंह ने कहा कि किसी विधायक का मोबाइल बंद नहीं है, उनके दूसरे नंबर पर सभी से बात हुई है और वे लोग आ रहे हैं।

बता दें कि मंत्री विजय चौधरी के आवास पर चल रही विधायक दल की बैठक में जेडीयू के चार विधायक नहीं पहुंचे हैं। चारों विधायकों के मोबाइल बंद हो गए हैं। शेखपुरा के बरबीघा से जेडीयू विधायक सुदर्शन कुमार, जेडीयू विधायक बीमा भारती, विधायक दिलीप राय और जेडीयू विधायक डॉ. संजीव बैठक में नहीं पहुंचे हैं। ऐसे में नीतीश सरकार के फ्लोर टेस्ट में बड़े खेल की संभावना प्रबल हो गई है।