कर्नाटक में भाजपा को सरकार बनाने का न्‍योता, विरोध में सुप्रीम कोर्ट पहुंची कांग्रेस

कांग्रेस कर्नाटक में सरकार बनाने के लिये भाजपा को न्योता देने के राज्यपाल के फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायालय पहुंची. अभिषेक सिंघवी ने कहा, कांग्रेस ने कर्नाटक के राज्यपाल के फैसले के खिलाफ अपनी याचिका पर उच्चतम न्यायालय में बुधवार देर रात सुनवाई की मांग की.

– कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा बीजेपी को बुलावा भेजने पर कांग्रेस ने कहा, राज्यपाल ने अपने पद को शर्मसार किया है. कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, हम अमित शाह जी से जानना चाहते हैं कि अगर दो दल चुनाव के बाद गठबंधन के लिए साथ नहीं आ सकते तो आपने गोवा और मणिपुर में सबसे बड़ी पार्टी को किनारे कर कैसे सरकार बना ली? उन्‍होंने कहा, हम सभी कानूनी और संवैधानिक अधिकारों का प्रयोग करेंगे. हम जनता की अदालत में जाएंगे.

 

 

 

 

 

 

– कर्नाटक में सियासी भूचाल के बीच गवर्नर ने सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है. आमंत्रण मिलने के बाद भाजपा के बीएस येदियुरप्पा सुबह 9 बजे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे. राज्यपाल ने बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का समय दिया है.

 

 

 

 

 

 

 

 

 

– कर्नाटक के भाजपा विधायक सुरेश कुमार ने ट्वीट कर बताया कि गुरुवार सुबह 9.30 बजे बीएस येदियुरप्पा राजभवन में राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. उन्‍होंने आगे ट्वीट कर कहर, इस मौके पर बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहेंगे. हालांकि अभी तक राजभवन की ओर से किसी भी दल को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित नहीं किया गया है.

ನಾಳೆ, ಗುರುವಾರ ಬೆಳಿಗ್ಗೆ ೯.೩೦ ಗಂಟೆಗೆ ರಾಜಭವನದಲ್ಲಿ ಸನ್ಮಾನ್ಯ ಬಿ.ಎಸ್.ಯಡ್ಯೂರಪ್ಪನವರು ರಾಜ್ಯದ ಮುಖ್ಯಮಂತ್ರಿಗಳಾಗಿ ಪ್ರಮಾಣವಚನ ಸ್ವೀಕರಿಸಲಿದ್ದಾರೆ. ಈ ಸಂತಸ ಗಳಿಗೆಯಲ್ಲಿ ಭಾಗಿಯಾಗಲು ಹೆಚ್ಚಿನ ಸಂಖ್ಯೆಯಲ್ಲಿ ಸೇರೋಣ.

— Sureshkumar (@nimmasuresh) May 16, 2018

 

– कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने कहा, जब कांग्रेस और जेडीएस के पास पर्याप्त संख्या है तो राज्यपाल द्वारा देरी करने का कोई मतलब नहीं बनता. उन्‍होंने कहा, होटल या जहां कहीं भी हम जाएं, विधायक साथ में रहेंगे और चीजों पर चर्चा करेंगे. खरीद-फरोख्त की वजह से कांग्रेस अपने विधायकों को साथ रखने के लिए मजबूर है.

– एचडी कुमारास्‍वामी राज्‍यपाल वजुभाई वाला से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया है. उन्‍होंने राज्‍यपाल से मुलाकात के बाद संवाददाताओं के साथ बातचीत में कहा कि उन्‍होंने राज्‍यपाल को सरकार बनाने संबंधि जरूरी दस्‍तावेज पेश किये हैं. राज्‍यपाल ने भी उन्‍हें भरोसा दिलाया है कि संविधान के अनुरूप ही निर्णय लिया जाएगा.

-कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलने जा रहे हैं एचडी कुमारास्वामी

 

-खत्म हुआ ‘राहुकाल’ अब राज्यपाल येदियुरप्पा को दे सकते हैं सरकार बनाने का न्यौता, 12.16 से 1.58 तक था राहुकाल

 

-कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि दोनों ही पार्टियों (कांग्रेस और जेडीएस) के पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त नंबर मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के पुराने फैसले को ध्यान में रखते हुए राज्यपाल हमें सरकार बनाने के लिए बुलाएंगे.

 

-कांग्रेस विधायकों को ले जाया जाएगा ईगलटन रिज़ॉर्ट: TIMES NOW

 

-एचडी कुमारस्वामी के समर्थन में जेडीएस और कांग्रेस के विधायकों के हस्ताक्षर लेने की प्रक्रिया चल रही है. यह दस्तावेज थोड़ी देर के बाद राज्यपाल को सौंपा जाएगा.

 

 

-कांग्रेस के 12 विधायकों के बैठक में उपस्थित न होने की खबरों पर पार्टी के नेता जी. परमेश्वर ने साफ कहा कि सभी विधायक साथ हैं. कुछ विधायक देर से आए क्योंकि वे बीदर से एक विशेष विमान से पहुंचे.

 

-डेप्युटी सीएम पद की इच्छा रखने की खबरों पर कांग्रेस के नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि किसी चीज के लिए कहने का कोई सवाल ही नहीं उठता है. हमारी प्राथमिकता एक सेक्युलर सरकार बनाना है. सभी 78 विधायक एक साथ हैं.

 

-कुमार स्वामी के आरोप पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि वह भाजपा पर झूठे आरोप लगा रहे हैं. भाजपा हॉर्स ट्रेडिंग नहीं करती, कांग्रेस इसके लिए मशहूर है. उनके अपने विधायक इस गठबंधन से खुश नहीं हैं. उन्होंने आगे कहा कि 100 करोड़ की बात कल्पना मात्र है और जेडीएस और कांग्रेस ऐसे ही राजनीति करती है. हम नियमों का पालन कर रहे हैं और हमने सरकार बनाने का अपना दावा राज्यपाल के सामने पेश किया है.

 

-कर्नाटक के पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि किसी भी कीमत पर हम कर्नाटक में सरकार बनाएंगे. हम किसी और को सूबे में सरकार बनाने नहीं देंगे. उन्होंने पीएम मोदी पर विधायकों की खरीद-फरोख्त को बढ़ावा देने का आरोप लगाया.

 

-भाजपा विधायकों को गोल्डन पाम रिजॉर्ट ले जाया जाएगा: टाइम्स नाउ

 

-कांग्रेस नेता टीडी राजगौड़ा ने कहा कि भाजपा लगातार फोन करती रही लेकिन हम उसके बारे में चिंता नहीं करते. मैंने उनसे साफ तैर पर कह दिया है कि वे मुझे फोन न करें. मैं एक कांग्रेसी हूं. वे ऐसा लंबे वक्त से करते आ रहे हैं, यही उनका काम है.

 

-कुमारस्वामी ने कहा कि हम कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष के साथ एक बार फिर राज्यपाल से मुलाकात करेंगे. उन्होंने कहा कि यह बकवास खबर है. किसी भाजपा नेता (प्रकाश जावड़ेकर) ने मुझसे मुलाकात नहीं की है.

 

कर्नाटक : कुमारस्वामी का बड़ा आरोप- 100 करोड़ में MLA खरीदने की कोशिश कर रही है BJP

 

 

-कुमारस्वामी ने कहा कि मैं अपने पिता की इच्छाओं के विरुद्ध नहीं जाना चाहता हूं. मैं चाहूंगा कि राज्यपाल हमें सरकार बनाने के लिए बुलाए.

 

-कुमारस्वामी ने कहा कि आयकर विभाग और अन्य एजेंसियों का इस्तेमाल विपक्ष को निशाना बनाने के लिए किया जा रहा है. मैं दुखी हूं कि बिना बहुमत के मैं सीएम बनूंगा लेकिन कर्नाटक के लोगों के लिए मुझे यह करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि हम भाजपा को अच्छी तरह से जानते हैं और इस बार हम सिर्फ कांग्रेस के साथ जाएंगे.

 

-कुमारस्वामी ने कहा कि भाजपा ने खुद जो बाकी राज्यों में किया है उसके बाद उसे कोई हक नहीं हमें नैतिकता का पाठ पढ़ाने का. राज्यपाल को हमें बुलाना ही होगा क्योंकि भाजपा के पास पर्याप्त नंबर नहीं हैं. केंद्र अपनी अथॉरिटी का गलत इस्तेमाल कर रही है. उन्होंने कहा कि ने कहा कि वह नहीं चाहते कि कर्नाटक में विधायकों की खरीद-फरोख्त हो. साथ ही उन्होंने कहा कि उनके विधायकों को भाजपा द्वारा 100 करोड़ और कैबिनेट में पद का ऑफर दिया गया.

 

-एचडी कुमारस्वामी ने जेडीएस की बैठक खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि भाजपा ने हमेशा जेडीएस के वोटों को बांटने की कोशिश की है. भाजपा से गठबंधन का कोई सवाल ही नहीं उठता. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं लेकिन फिर भी वह बहुमत नहीं ला सके. कांग्रेस के समर्थन के लिए एचडी कुमारस्वामी ने पार्टी का शुक्रिया अदा किया.

 

-भाजपा और उसके केंद्रीय नेतृत्व को साफ-सुथरी राजनीति पर भरोसा नहीं है: कांग्रेस नेता, गुलाम नबी आजाद

 

-एचडी कुमारास्वामी को जेडीएस विधायक दल का नेता चुना गया है.

 

-जेडीएस नेता ए.मंजुनाथ ने कहा कि एचडी कुमारस्वामी हमारे मुख्‍यमंत्री होंगे और यह एक गठबंधन की सरकार होगी. यही एकमात्र सच है. लोग उन्हें मुख्‍यमंत्री बनते देखना चाहते हैं. हम किसी के बहकावे में नहीं आएंगे.

 

-बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि हमने अपना सरकार बनाने का प्रस्ताव राज्यपाल के सामने रख दिया है, उन्होंने कहा है कि वह इस बारे में जल्द फैसला लेंगे. येदियुरप्पा ने कहा कि पार्टी ने मुझे चुना है. मैंने राज्यपाल को पत्र सौंप दिया है और वह मुझे कॉल करेंगे, मुझे उम्मीद है.

 

-कांग्रेस के 78 में से 66 विधायक पहुंचे विधायक दल की बैठक में.

 

-जेडीएस के गायब विधायक वेंकट राव ने अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्स नाउ से बात करते हुए कहा कि वह बेंगलुरु में चल रही बैठक में हिस्सा लेने के लिए जा रहे हैं.

 

-कांग्रेस नेता एन हैरिस ने कहा कि हमें जनता के द्वारा दिये गये फैसले की सुरक्षा करनी होगी. भाजपा गंदी राजनीति पर तर चुकी है. हम उनके जितना नहीं गिर सकते हैं. हमारे साथ 118 विधायक हैं. हमें और किसी चीज की जरूरत नहीं है. मुझे किसी ने रिजॉर्ट में नहीं बुलाया

 

-विधायकों के लापता होने की खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता एमबी पाटिल ने कहा कि यह सब गलत खबर है. उल्टा भाजपा के 6 विधायक हमारे संपर्क में है.

 

-जेडीएस के 2 विधायक राजा वेंकटप्पा नायक और वेंकट राव पार्टी की बैठक से नदारद.

 

-बीएस येदियुरप्पा सरकार बनाने का दावा पेश करने राजभवन के लिए निकल चुके हैं. भाजपा के वरिष्ठ नेता भी बीएस येदियुरप्पा के साथ मौजूद हैं. वहीं दूसरी ओर होटल में बैठक के बाद रिजॉर्ट का रुख करेंगे JD(S) के नेता.

 

-येदियुरप्पा को चुना गया विधायक दल का नेता. राजभवन की ओर होंगे रवाना. कल येदियुरप्पा लेंगे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ : TIMES NOW

 

 

-कांग्रेस ने सभी विधायकों के हस्ताक्षर करवाये. जेडीएस ने भी अपने विधायकों के साइन लिये.

 

-कुमारस्वामी ने कहा कि हम कांग्रेस के साथ हैं और दूसरे फैसले का अब सवाल ही नहीं उठता. इधर , सदानंद देवगौड़ा ने कहा कि हम सबसे बड़ी पार्टी हैं और आपने देखा है कि कैसे जेडीएस और कांग्रेस लड़ रहे थे 6 महीने पहले. अब वह साथ आखिर सरकार बनाना चाहते हैं.

 

-जेडीएस विधायक दल की बैठक भी शुरू.

 

-बेंगलुरु स्थित भाजपा कार्यालय में सरकार बनाने को लेकर बैठक शुरू हो चुकी है. मीडिया रिपोर्ट के सूत्रों के अनुसार कर्नाटक के राज्यपाल से केंद्र ने भाजपा को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए वक्त देने के लिए कहा है. भाजपा एसआर बोम्माई केस और सरकारिया कमिशन की रिपोर्ट का हवाला देकर सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने का न्योता दिए जाने की बात कर रही है.

 

-प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि हम सरकार बनाने के लिए पूरी तरह लोकतांत्रिक तरीके का पालन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि लोग भाजपा को पसंद करते हैं और हम सरकार बनाएंगे. कोई भी तनाव पैदा कर सकता है लेकिन कर्नाटक के लोग हमारे साथ हैं. बैठक के बाद हम जरूरी कदम उठाएंगे.

 

-भाजपा के मुख्‍यमंत्री पद के दावेदार बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि बैठक के दौरान नेता का चुनाव होगा जिसके बाद हम सीधा राज भवन जाएंगे. हम सराकर बनाने का प्रस्ताव सामने रखेंगे. यह संभव है कि राज्यपाल से हम कल तक का समय मांगे.

 

-वरिष्ठ नेता जेपी नड्डा, प्रकाश जावड़ेकर और धर्मेन्द्र प्रधान बैठक में भाग लेने भाजपा कार्यालय पहुंचे. ये नेता बेंगलुरु में आयोजित होने वाली कर्नाटक विधानसभा के लिए निर्वाचित भाजपा विधायकों की बैठक में पार्टी के केन्द्रीय पर्यवेक्षक के रूप में शामिल होने पहुंचे हैं.

 

-जेडीएस नेता Saravana ने कहा कि मुझे नहीं पता भाजपा क्या ऑफर कर रही है पर वे हमारे लोगों को फोन करने की कोशिश कर रहे हैं. हम सब साथ हैं, कोई हमारी पार्टी को छू नहीं सकता. हमारे पार्टी के सदस्य पार्टी के प्रति वफादार हैं.

 

-कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जेडीएस को अपने विधायकों पर पूरा भरोसा है, कोई कहीं नहीं जा रहा है. भाजपा को कोशिश करने दीजिए वे जो करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी पार्टी के पास पर्याप्त संख्या नहीं है. भाजपा के पास 104 हैं और कांग्रेस और जेडीएस के पास 117. जो संविधान को बचाने के लिए है… क्या वह उसे बर्बाद कर सकता है ?राज्यपाल को अपने पहले सारे संबंध तोड़ने होंगे चाहे वह भाजपा से हो या आरएसएस.

 

-जेडीएस नेता दानिश अली ने कहा कि जेडीएस और कांग्रेस के पास पूरे नंबर हैं. मुझे उम्मीद है कि राज्यपाल एचडी कुमारस्वामी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करेंगे. अगर भाजपा राज्यपाल पर दबाव डालती है तो यह लोकतंत्र की मौत होगी.

 

-कांग्रेस नेता रामलिंगा रेड्डी ने कहा कि हमें अपने विधायकों पर भरोसा है, भाजपा उन्हें अपने पाले में लाने की बहुत कोशिश कर रही है. भाजपा लोकतंत्र में भरोसा नहीं करती, उसको सिर्फ सत्ता चाहिए. सारे लोग खुश हैं, कोई यहां नाखुश नहीं है.

 

बेंगलुरु /नयी दिल्ली : कर्नाटक में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति उभरी है. चुनाव परिणाम में भाजपा सबसे बड़े दल के रूप में सामने आयी है, लेकिन बहुमत के आंकड़े से थोड़ी दूर है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस+जनता दल (सेक्युलर) दोनों ही सरकार बनाने को लेकर आतुर है. इस बीच कांग्रेस नेता एएल. पाटिल बय्यापुर ने दावा किया है कि उनके पास भाजपा नेताओं का कॉल आया था जो उन्हें मंत्री पद का लालच दे रहे थे.

 

बय्यापुर ने ने कहा है कि मुझे भाजपा नेताओं ने कॉल किया और कहा कि हम आपको मंत्रालय देंगे. मंत्री बना देंगे… लेकिन मैं उनसे कहना चाहूंगा कि मैं यहीं रहूंगा…एचडी कुमरस्वामी हमारे मुख्‍यमंत्री हैं… इधर , भाजपा नेता केएस ईश्वरप्पा ने कहा है कि इसमें कोई शक ही नहीं है कि सरकार हम ही बनाएंगे. 100 प्रतिशत सरकार हम बनाएंगे, आप बस देखते जाइए. नतीजे कल ही आए हैं, अभी बस एक ही दिन बीता है.

 

कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि हां हमारे पास प्लान जरूर है. हमें अपने विधायकों को बचाना होगा. हम बाद में बताएंगे आगे क्या प्लान है. पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि हमारे सारे विधायक हैं, कोई भी मिसिंग नहीं है. हमें पूरा विश्वास है कि हम सरकार बना रहे हैं.

 

उधर, बेंगलुरु में ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी के सेक्रटरी केसी वेणुगोपाल और अन्य कांग्रेस विधायक कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यालय बैठक के लिए पहुंच चुके हैं. आपको बता दें कि कांग्रेस ने मात्र 78 सीटों पर जीत दर्ज करने के बावजूद 38 सीटों वाले जनता दल सेक्युलर को समर्थन का एलान कर भाजपा के जीत के जश्न को फीका करने की कोशिश की है. कांग्रेस ने स्पष्ट किया कि गठबंधन की सरकार बनने की स्थिति में जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ही सीएम होंगे.

 

अचानक बदली स्थिति के बीच भाजपा के सीएम उम्मीदवार येदियुरप्पा ने कहा कि सौ फीसदी भाजपा ही सरकार बनायेगी. मंगलवार को येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मुलाकात कर सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते सरकार बनाने का दावा पेश किया. इसके महज 15 मिनट के बाद सीएम सिद्धारमैया व जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने भी राज्यपाल से मिल कर सरकार बनाने का दावा पेश किया. इसके बाद येदियुरप्पा ने कहा कि हमारे पास मैजिक नंबर है.

 

मालूम हो कि 2004 में भी ऐसी ही स्थिति बनी थी. तब भाजपा को 79, कांग्रेस को 65 और जेडीएस को 58 सीटें मिली थीं. इसके बाद जेडीएस और कांग्रेस ने मिल कर सरकार बनायी थी, जो करीब दो साल चल पायी. मालूम हो कि भाजपा 104 सीटों पर जीत दर्ज कर सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है. कांग्रेस ने 78 सीटों पर जीत दर्ज की है. जद (एस) गठबंधन ने 38 सीटें जीती है.

 

कर्नाटक विधानसभा की 224 में से 222 सीटों के लिए 12 मई को मतदान हुआ था. दो सीटों पर चुनाव टाल दिया गया था.कांग्रेस के औपचारिक तौर पर जेडीएस को समर्थन देने के बाद कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला की भूमिका अहम हो गयी है. वह भाजपा के वरिष्ठ नेता रह चुके हैं. आम परंपरा के अनुसार राज्यपाल सबसे बड़ी पार्टी या चुनाव पूर्व गठबंधन को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करता है और त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति में उसे सदन में बहुमत साबित करने को कहता है.

 

मंगलवार को शुरुआती रुझानों में भाजपा आसानी से बहुमत के आंकड़े को पार करती नजर आयी थी, लेकिन समय बीतने के साथ भाजपा बहुमत के जादुई आंकड़े से दूर नजर आने लगी. भाजपा के सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने नयी दिल्ली और बेंगलुरु में जश्न मनाना शुरू कर दिया था, लेकिन कांग्रेस की घोषणा के साथ ही इस पूरे घटनाक्रम ने नया मोड़ ले लिया.

 

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *