गया जंक्शन पर समुचित सफाई नहीं, पसरा गंदगी

गया जंक्शन पर इन दिनों साफ-सफाई सही से नहीं हो रही है। अनुबंध समाप्त होने के बाद से साफ-सफाई कार्य प्रभावित हो रहा है। गया जंक्शन की साफ-सफाई कार्य का जिम्मा निजी हाथों में सौंपा था। 31 दिसंबर 2017 तक ही टेंडर का अवधि थी। टेंडर अवधि समाप्त होने के कारण सही सभी प्लेटफार्मो व रेल ट्रैकों के अलावे बाहरी परिसर में समुचित तरीके से सफाई कार्य नहीं हो पा रही है। हालांकि, विभागीय अधिकारी किसी प्रकार सफाई कराने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन यह नाकाफी है। वीआईपी प्लेटफार्म के रूप में चिन्हित गया जंक्शन का एक नंबर प्लेटफार्म पर सफाई कार्य दुरुस्त बनाए रखने के लिए प्रयास की जा रही है। सफाई कार्य प्रभावित होने से स्टेशन परिसर में जहां-तहां गंदगी है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि पिछले सात साल से रेलवे ने गया जंक्शन परिसर का साफ-सफाई व्यवस्था निजी कंपनी के हाथों में सौंप दिया है। इसी के तहत सफाई कार्य किया जा रहा था। लेकिन अगस्त 2017 में ही सफाई का टेंडर अवधि समाप्त हो गया था। इसके बाद चार माह की अवधि का विस्तार किया गया था। इस बीच रेलवे ने टेंडर की प्रक्रिया शुरू नहीं की। इसके कारण अभी तक सफाई कार्य का टेंडर प्रकाशित नहीं होने से सफाई कार्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। स्टेशन परिसर का डस्टबीन के साथ ही सभी प्लेटफार्मो की सफाई कार्य प्रभावित है। रेल ट्रैक पर भी सही तरीके से सफाई कार्य प्रभावित हो रहा है।

 

 

अधिकारी ने कहा

 

गया जंक्शन पर सफाई कार्य को सुचारू बनाए रखने के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। सफाई अनुबंध अवधि समाप्त हो गया है। लेकिन रेल प्रशासन तत्काल टेबल टेंडर देकर सफाई कार्य बहाल कराएगी। इसकी प्रक्रिया जारी है। टेंडर समाप्त होने की स्थिति में भी गया जंक्शन पर सफाई कार्य को सुचारू बनाए रखने के लिए विभगीय स्तर पर प्रयास की जा रही है। यात्रियों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो इसपर ध्यान दिया जा रहा है।

 

डा. विश्वविजय सिंह, अपर मंडल चिकित्सा अधीक्षक, मुगलसराय रेल मंडल,गया।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *