पटना एम्स के डॉक्टर के बेटे ने गोली मारकर की आत्महत्या, दसवीं का था छात्र

अक्षत दसवीं का छात्र था और निजी स्कूल में पढ़ाई करता था (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पटना एम्स के डॉक्टर के बेटे ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली है. पुलिस फिलहाल मामले की जांच में लगी हुई है.
पटना: बिहार के पटना एम्स के डॉक्टर त्रिभुवन के बेटे ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली. अक्षत एम्स रेजिडेंट में पैरेंट्स के साथ रहता था और दानापुर के एक निजी स्कूल में दसवीं का छात्र था. घटना की जानकारी मिलने के बाद फुलवारीशरीफ पुलिस मौके पर पहुंची और जिस पिस्टल से गोली मारी गई है उसे पुलिस ने बरामद कर लिया है. जिस पिस्टल से अक्षत ने खुद को गोली मारी गई है वो गैर-लाइसेंसी है.

पुलिस साथ ही सुसाइड नोट भी खोजने में लगी हुई है. घटनास्थल पर फुलवारीशरीफ के डीएसपी रमाकांत प्रसाद भी पहुंच चुके हैं और मामले की छानबीन कर रहे हैं. अक्षत ने घर में ही खुद को गोली मारी है और प्रथम दृष्टि में यह आत्महत्या का मामला लग रहा है लेकिन जिस तरह से घर के अंदर खून के निशान मिले हैं उससे हत्या की भी आशंका जाहिर की जा रही है.

हालांकि इस मामले में फिलहाल पुलिस कुछ नहीं बोल रही है और जांच में जुटी हुई है. डीएसपी रामाकांत ने साथ ही यह भी कहा है कि प्रथम दृष्टि में यह मामला आत्महत्या का है और जिस पिस्टल से आत्महत्या की गई है वो गैरलाइसेंसी पिस्टल था. इस बात की भी जांच की जा रही है कि आखिर पिस्टल को कहां से लाया गया है.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *