फारबिसगंज में बिहार पुलिस के जवान की गोली मारकर हत्या,खेत में मिला शव

फारबिसगंज में बिहार पुलिस के जवान की गोली मारकर हत्या,खेत में मिला शव

12th March 2018 0 By Kumar Aditya

अररिया के फारबिसगंज शहर के परवाहा आदिवासी टोला में बिहार पुलिस के एक जवान की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद शव को राइफल और गोली के साथ ठिकाने लगाने का प्रयास किया गया। मृतक प्रेम सिंह सुपौल पुलिस बल का जवान था और चुनावी ड्यूटी में अररिया आया था। वह मूलत: पटना जिले के फुलवारी शरीफ स्थित धनुका का रहनेवाला था।

 

प्रेम सिंह अपने एक साथी जवान जो सुपौल पुलिस बल में ही कार्यरत है, के साथ अपने एक रिश्तेदार विजय सोरेन पिता सोने लाल सोरेन के घर रविवार की शाम आया था। साथी जवान का नाम सुपल सोरेन है जो घटना के बाद से फरार है। सूचना पर पुलिस अधिकारियों के साथ पहुंचे डीएसपी मनोज कुमार ने मामले की छानबीन कर विजय सोरेन को गिरफ्तार कर लिया है। डीएसपी ने बताया कि जवान को सिर में गोली मारी गयी है। शव के पास से 45 पीस गोलियां और खोखे मिले हैं।

 

डीएसपी ने कहा कि राइफल की मैग्जीन और चार गोलियों के साथ साथी सिपाही सुपल सोरेन फरार है जिसके बारे में पता किया जा रहा है। डीएसपी ने सोमवार के सवेरे की घटना बताते हुए कहा कि फिलहाल गृहस्वामी विजय को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की जा रही है। उसके घर में घटना घटी है और घटना के बाद घर के बगल स्थित मकई के खेत में लाश और राइफल को छिपाने का प्रयास किया गया है। राइफल को जब्त कर लिया गया है और शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। इसके साथ ही सुपौल पुलिस से संपर्क साध कर डिटेल लिया जा रहा है और पता लगाया जा रहा है कि जवान की जिले में किस जगह ड्यूटी थी और किस परिस्थिति में वह मतदान के दौरान या बाद में परवाहा गया था।

 

 

ग्रामीणों ने बताया कि दोनों पुलिस के जवान रायफल के साथ सफेद रंग की एक्टिवा प्लस स्कूटी से आया था। हालांकि गृहस्वामी ने कहानी को मोड़ने का भी प्रयास किया और विजय सोरेन ने बताया कि प्रेम सिंह ने उसके छोटे भाई को कहा कि आओ भगना गोली चलाने के लिए सिखाते हैं और इसी क्रम मे गोली चल गयी। हालांकि थोड़ी ही देर में बयान बदल गया। डीएसपी ने कहा कि जवान के सिर में गोली लगी है और उसका दूसरा साथी राइफल का चैम्बर और गोली लेकर भाग गया। डीएसपी ने इस मामले में मृतक के साथी की भूमिका होने की आशंका जतायी। इधर भागलपुर से एफएसएल की टीम पहुंचकर जांच में जुट गयी है।

Advertisements