Weather update : इन क्षेत्रों में बारिश की संभावना, मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट

Weather update उत्तर भारत में बर्फबारी के कारण मैदानी इलाकों में शीतलहर का प्रकोप लगातार जारी है इस कारण से जनजीवन काफी अस्त-व्यस्त है

उत्तर भारत में भारी बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों में दिख रहा है। हिमाचल में गुरुवार को रिकार्ड बर्फबारी हुई तो कश्मीर में भी हिमपात जारी है। इस बीच पश्चिमी विक्षोभ के कारण दिल्ली में फरवरी की पहली बारिश हुई। तेज हवा के साथ हो रही बारिश के कारण दिल्ली में शाम तक ठिठुरन भी एक बार फिर से महसूस होने लगी। मौसम विभाग के मुताबिक शुक्रवार से न्यूनतम और अधिकतम तापमान में भी गिरावट दर्ज किया गया है। मौसम विभाग से मिली ताजा अपडेट के मुताबिक उत्तर भारत के कई राज्यों में मौसम ने फिर करवट ली है। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर, वाराणसी, बलिया, आजमगढ़, गोरखपुर में बारिश होने की संभावना है। वहीं मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में बिजली गिरने के साथ बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग ने हिमाचल में जारी किया यलो अलर्ट

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में गुरुवार को इस वर्ष की पहली बर्फबारी हुई थी। साथ ही हिमाचल में मौसम विभाग ने बर्फबारी, आंधी और बरिश की संभावना जताई है। साथ ही येलो अलर्ट भी जारी किया है। इसके अलावा मौसम विभाग (IMD) ने लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ इलाकों में अघले 24 घंटो में हल्की बारिश और बर्फबारी की आशंका जताई है। राजधानी शिमला में गुरुवार को 12 घंटे में ही 50 सेंटीमीटर हिमपात हुआ है। 12 घंटे में दर्ज की गई आज तक की सबसे ज्यादा बर्फबारी है। इससे पहले 24 घंटे में 54.1 सेंटीमीटर बर्फ 12 फरवरी 2002 में रिकॉर्ड की गई थी।

फरवरी में सबसे ज्यादा बर्फबारी 1990 में 151 सेंटीमीटर दर्ज की गई थी। मौसम विभाग के क्षेत्रीय निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि 50 सेंटीमीटर बर्फबारी शिमला में 12 घंटे में पहली बार रिकार्ड की गई है। वहीं उत्तर प्रदेश के पूर्वी इलाकों में पिछले 24 घंटे में कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ा है। वहीं उत्तराखंड में मौसम ने एक बार फिर करवट ली है। बादलों के डेरा डालने के बाद प्रदेश के मैदानी इलाकों में बारिश और चारधाम समेत आसपास की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई। चार धाम में बर्फबारी जारी है। उत्तरकाशी में गंगोत्री राजमार्ग सुकी के बाद बर्फबारी के चलते अवरुद्ध हो गया है। कहीं-कहीं ओलावृष्टि की भी सूचना है।
जम्मू-कश्मीर में हवाई सेवा बाधित

 

 

कम रोशनी और रनवे पर जमा बर्फ के चलते कश्मीर में गुरुवार को भी अधिकांश उड़ानें रद्द हैं। जम्मू कश्मीर में एयरपोर्ट के निदेशक संतोश ढोके ने बताया कि 14 उड़ानें गुरुवार दोपहर तक शेड्यूल की गई थीं। मगर कम रोशनी और रनवे पर बर्फ जमा होने के चलते उड़ानों का संचालन शुरू नहीं हो पाया है। दोपहर बाद मौसम में सुधार और विजिबिलिटी बेहतर होने के साथ रनवे से बर्फ हटाई गई। इसके बाद शेड्यूल की गई उड़ानों का आवागमन संभव हो सका।

Leave a Reply