CM योगी के गढ़ में प्रियंका गांधी, भाजपा, सपा-बसपा को ठहराया किसानों की दुर्दशा का जिम्मेदार

सपा-बसपा की सरकार पर निशाना साधते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, कांग्रेस सरकार के दौरान स्थापित गन्ना किलों को सपा और बसपा की सरकारों ने बंद कर दिया। अब वे कह रहे हैं कांग्रेस भाजपा के साथ मिलकर काम कर रही है। प्रियंका गांधी ने कहा, मैं पूछना चाहती हूं, आपके कठिन समय में वे आपके साथ क्यों नहीं खड़े होते। सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के दिन रविवार को प्रियंका गांधी गोरखपुर पहुंची थीं। इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। प्रियंका गांधी के साथ मंच पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी मौजूद थे।

सीएम योगी के गढ़ गोरखपुर से प्रतिज्ञा रैली को हरी झंडी दिखाने पहुंची प्रियंका गांधी ने भाजपा, बसपा-सपा को आड़े हाथ लिया। चंपा देवी पार्क में आयोजित रैली के दौरान प्रियंका गांधी ने जैसे ही माइक थामा तो तालियों की गड़गड़ाहट सुनाई देने लगी। पार्क में मौजूद भीड़ और कार्यकर्ताओं के जोश को देखकर प्रियंका गांधी भी अपने आप को रोक नहीं पाईं और एक के बाद एक प्रहार शुरू कर दिए। गोरखपुर की धरती से प्रियंका गांधी ने सबसे पहले सपा-बसपा को निशाना बनाया।

लखीमपुर हिंसा का जिक्र करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, खीरी में जिस तरह से किसानों की हत्या की गई और उनकी दुर्दशा को किसी ने नहीं सुना, यह इस सरकार की वास्तविकता को दर्शाता है। इससे पता चलता है कि कैसे देश में किसानों की दुर्दशा सुनने को कोई तैयार नहीं है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने भाषण के दौरान दलित, बुनकरों और ब्राम्हणों को भी साधने की कोशिश की। उन्होंने कहा, दलितों, बुनकरों, ओबीसी, गरीबों अल्पसंख्यकों और ब्राह्मणों का शोषण किया गया है। योगी आदित्यनाथ जी गुरु गोरखनाथ की शिक्षाओं के खिलाफ सरकार चला रहे हैं। यह सरकार आए दिन लोगों पर हमले कर रही है। उन्होंने आगे कहा कि गन्ने का एमएसपी बढ़ाया जाएगा। आप सभी इसकी घोषणा क्यों कर रहे हैं?

प्रियंका गांधी ने पूछा, साढ़े चार साल में क्या किया बताए यूपी सरकार

यूपी में भाजपा सरकार के काम पर सवाल उठाते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, पिछले साढ़े चार साल में आप क्या कर रहे थे? क्या आपको पिछले साढ़े चार साल में गन्ने के दाम बढ़ाने का सही समय नहीं मिला? इसके बाद प्रियंका गांधी ने सपा-बसपा पर कांग्रेस सरकार में स्थापित की गई गन्ना मिलों को बंद करने का भी आरोप लगाया।