अहमदाबाद में धोनी को पीछे छोड़ सकते हैं कोहली, पिंक बॉल टेस्ट में नाम करेंगे बड़ा रिकॉर्ड

भारत और इंग्लैंड के बीच जारी 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम पर खेला जाना है, जहां पर जीत हासिल कर दोनों टीमें सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करना चाहेंगी। पहले मैच में 227 रनों से मिली हार के बाद भारतीय टीम ने दूसरे मैच में जबरदस्त वापसी की और इंग्लैंड की टीम को 317 रनों से हराने का काम किया। फिलहाल दोनों टीमें सीरीज में 1-1 की बराबरी पर हैं और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिये दोनों ही टीमों को बचे हुए मैचों में सिर्फ जीत की दरकार है। इसका मतलब है कि अहमदाबाद में होने वाले तीसरे मैच में जो भी टीम हारेगी वो चैम्पियनशिप की रेस से बाहर हो जायेगी।

ऐसे में अगर भारतीय कप्तान विराट कोहली अहमदाबाद में जीत हासिल करने में कामयाब हो जाते हैं तो वह न सिर्फ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को बरकरार रखेंगे बल्कि भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी के एक बड़े रिकॉर्ड को भी तोड़ देंगे। भारतीय सरजमीं पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैचों में जीत हासिल करने वाले कप्तान की लिस्ट में धोनी फिलहाल 21 जीत के साथ सबसे ऊपर हैं और विराट कोहली ने चेपॉक में जीत हासिल करने के बाद धोनी के इस रिकॉर्ड की बराबरी की थी।

वहीं अगर विराट कोहली मोटेरा स्टेडियम में होने वाले तीसरे मैच में जीत हासिल कर लेते हैं तो वो 22वां टेस्ट जीत कर धोनी को पीछे छोड़ देंगे और घरेलू सरजमीं पर भारत के लिये सबसे मैच जीतने वाले कप्तान बन जायेंगे। इस लिस्ट में धोनी के बाद मोहम्मद अजहरुद्दीन का नाम है जिन्होंने 13 मैचों में जीत हासिल की थी, जबकि सौरव गांगुली 10 जीत के साथ चौथे पायदान पर काबिज हैं।

वहीं सुनील गावस्कर भी 7 जीत के साथ पांचवे पायदान पर काबिज हैं। इसके अलावा विराट कोहली इस मैच में घरेलू सरजमीं पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज की लिस्ट में भी दिलीप वेंगसरकर के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। वेंगसरकर को पीछे छोड़ने के लिये कोहली को सिर्फ 23 रनों की दरकार है जबकि वीवीएस लक्ष्मण को पछाड़ने के लिये 65 रनों की दरकार है।

आपको बता दें कि विराट कोहली इस समय 3703 रन के साथ सातवें पायदान पर काबिज हैं। वहीं चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली इस मैच मैच में इंग्लैंड के खिलाफ 1000 रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में भी शुमार हो सकते हैं। जहां पुजारा को 45 रनों की दरकार है तो वहीं पर कोहली बस 12 रन दूर हैं। इन खिलाड़ियों से पहले यह कारनामा सिर्फ सुनील गावस्कर (1331) और गुंडप्पा विश्वनाथ (1022) के नाम ही है।

Leave a Reply