• Fri. Jan 27th, 2023

पार्टी से की बगावत तो पीएम मोदी ने किया फोन, जानिए उस बागी नेता का प्रदर्शन

BySumit Kumar

Dec 9, 2022

हिमाचल की जनता ने रिवाज कायम रखा। पांच साल के बाद सत्ता में परिवर्तन हुआ है। कांग्रेस की वापसी हुई है। राज्य की 68 सीटों पर वोटों की गिनती समाप्त हो गई है। अंतिम नतीजों में कांग्रेस ने बहुमत के लिए जरूरी 35 सीटों का आंकड़ा पार कर लिया है। कांग्रेस 40 सीटें जीत चुकी है।

पीएम मोदी ने किया था फोन

प्रदेश में चुनाव प्रचार के दौरान एक वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियो में भारतीय जनता पार्टी के एक बागी नेता कृपाल परमार को पीएम मोदी ने फोन कर समझा रहे थे। बीजेपी नेतृत्व के समझाने के बावजूद इस शख्स ने चुनावी मैदान से हटने से इनकार कर दिया और चुनाव लड़ने का फैसला किया। बागी कृपाल परमार को जनता ने नकार दिया है। चुनाव में करारी हार मिली है। लेकिन इस सीट पर बीजेपी भी हार गई। यहां से कांग्रेस ने बाजी मार ली।

फतेहपुर सीट पर कांग्रेस के भवानी सिंह पठानिया को 33238 वोट मिले हैं, जबकि बीजेपी के राकेश पठानिया को 25884 वोट मिले हैं। इस तरह से इस सीट से कांग्रेस के भवानी सिंह पठानिया ने बीजेपी के राकेश पठानिया को 7354 वोटों से मात दी है। कृपाल परमार की बात करें तो उन्हें इस सीट पर कुल 2811 वोट मिले हैं।

जयराम ठाकुर कैबिनेट के 10 में से 8 मंत्री चुनाव हार गए

जयराम ठाकुर कैबिनेट के 10 में से 8 मंत्री चुनाव हार गए। चुनाव हारने वाले मंत्रियों में सुरेश भारद्वाज, रामलाल मारकंडा, वीरेंद्र कंवर, गोविंद सिंह ठाकुर, राकेश पठानिया, डॉ। राजीव सैजल, सरवीण चौधरी, राजेंद्र गर्ग शामिल हैं। जयराम ठाकुर के अलावा बिक्रम ठाकुर और सुखराम चौधरी ही चुनाव जीत पाए। विधानसभा क्षेत्र नादौन से कांग्रेस प्रत्याशी एवं कांग्रेस प्रचार समिति के अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने चुनाव में चौथी बार जीत दर्ज करने के बाद इस जीत का श्रेय कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और प्रदेश की जनता को दिया।

कौन बनेगा अलगा सीएम?

हिमाचल चुनाव में कांग्रेस के जीत के बाद प्रदेश कांग्रेस की चीफ प्रतिभा सिंह ने कहा कि चुने हुए विधायक तय करेंगे कि कौन सीएम होगा। एक बार जब वे अपनी पसंद स्पष्ट कर देंगे, तब पार्टी आलाकमान नाम की घोषणा करेगा। उन्होंने कहा बताया कि वह राजीव शुक्ला से चुनाव के संबंध में बात नहीं कर पाई है।