पूर्व मुखिया के बेटे का मर्डर, अपराधियों ने गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ 6 गोली मारी

BUXAR :  इस वक्त एक बड़ी खबर बक्सर जिले से सामने आ रही है, जहां अपराधियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है. बदमाशों ने पूर्व मुखिया के बेटे का मर्डर कर दिया है. ताबड़तोड़ 6 गोलियां मारी गई हैं. घटना के बाद इलाके में सनसनी फ़ैल गई है. इलाके में तनावपूर्ण स्थिति है. पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है.

घटना बक्सर जिले के करहंसी पंचायत की है. जहां अपराधियों ने मिलकर करहंसी पंचायत के पूर्व मुखिया धर्म कुमार सिंह उर्फ मुन्ना सिंह के पुत्र दिग्विजय सिंह (35) की गोली मारकर हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि यह घटना उस वक्त अंजाम दी गई. हार्वेस्टर से खेतों में धान की कटनी करा रहे थे. उसी वक्त दो बाइकों पर सवार चार की संख्या में पहुंचे अपराधियों ने दिग्विजय को निशाना बनाते हुए ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी.

इस बड़ी घटना को लेकर मिली जानकारी के मुताबिक दिग्विजय के पेट में दो पैर में दो तथा सिर में दो गोलियां लगी, जिससे कि वह बुरी तरह घायल होकर गिर पड़े. अपराधी तत्काल बाइक पर सवार होकर बक्सर की तरफ भाग निकले. बाद में स्थानीय लोगों द्वारा तुरंत दिग्विजय को सदर अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

घटना के बाद आक्रोशित परिजनों ने पुलिसिया व्यवस्था की नाकामी को लेकर सदर अस्पताल के समीप सड़क जाम कर दिया है. जाम कर रहे लोगों का कहना है कि पुलिस इतनी निष्क्रिय हो गई है कि अब अपराधी बेलगाम हो गए हैं. अपराधियों में कानून व्यवस्था को लेकर जरा भी खौफ नहीं है, जिसका उदाहरण आए दिन हो रही घटनाओं के रूप में सामने आ रहा है.

आपको बता दें कि पूर्व मुखिया धर्म कुमार सिंह उर्फ मुन्ना सिंह पंचायत के तीन बार मुखिया रह चुके हैं. दिग्विजय उनका इकलौता पुत्र है. हालांकि, उसकी हत्या किन कारणों से हुई है यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो रहा है. बताया जा रहा है कि, मुखिया ही नहीं उनका पुत्र भी बहुत ही मृदुभाषी और मिलनसार स्वभाव का युवक था. ऐसे में हत्या किस कारण से की गयी है यह पता नहीं चल सका है. घटना की सूचना मिलने के बाद मुफस्सिल थाने की पुलिस सदर अस्पताल पहुंच चुकी है.

Leave a Reply