प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शेखों के देश में किया हिंदू मंदिर का शिलान्यास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शेखों के देश में किया हिंदू मंदिर का शिलान्यास

11th February 2018 0 By Kumar Aditya

तीन देशों की चार दिवसीय यात्रा के दौरान शेखों के देश संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये अबु धाबी में हिंदू मंदिर की आधारशिला रखी. इस दौरान उन्होंने दुबई ओपेरा कम्युनिटी सेंटर में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित किया.

 

Indian community gives a warm welcome to PM @narendramodi at the community reception in Dubai. pic.twitter.com/IRUgCAJZ4x

 

— PMO India (@PMOIndia) February 11, 2018

मोदी ने अबू धाबी में बनने वाले भव्य मंदिर के लिए 125 करोड़ भारतीयों की ओर से शहजादा मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान को धन्यवाद दिया. विदेश यात्रा के दौरान पहली बार थोड़ा थका दिख रहे प्रधानमंत्री ने यहां अपनी सरकार की उपलब्धियां तो बतायी ही, विरोधी दल पर हमला करना भी नहीं भूले. उन्होंने कहा, ‘हमने वो दिन भी देखे, जब लोग कहते थे, चलो छोड़ो यार. कुछ नहीं होने वाला है.’

 

उन्होंने कहा कि अब वह दौर नहीं रहा. हम निराशा के कालखंड से गुजर चुके हैं. वहां से चलते-चलते चार साल के भीतर देश वहां पहुंच गया है कि अब कोई यह नहीं पूछता कि ये कैसे होगा? होगा कि नहीं? अब लोग पूछते हैं, ‘मोदी जी कब होगा?’ उन्होंने कहा कि इस सवाल में शिकायत नहीं है, विश्वास है कि होगा, तो अभी होगा.

India’s leap in World Bank’s Ease of Doing Business Rankings from 142 to 100 is unprecedented. But we are not satisfied at this, we want to do better. We will do whatever it takes to make it possible: PM @narendramodi

— PMO India (@PMOIndia) February 11, 2018

 

 

मोदी ने कहा कि दुनिया में इतनी तेजी से कोई भी देश नहीं बढ़ा है. हम विश्व बैंक की रैंकिंग में 142वें से 100वें नंबर पर आ गये हैं. हम यहीं नहीं रुकेंगे. हम आगे बढ़ेंगे. हम हर तरह के बदलाव के लिए तैयार हैं. हम ग्लोबल रैंकिंग में शीर्ष तक पहुंचेंगे.

 

उन्होंने कहा कि अगर नोटबंदी करता हूं, तो देश का गरीब खुश है. लेकिन, जिसके पैसे डूब गये हैं, वह दो साल से रो रहा है. आगे कहा कि सात साल से जीएसटी लटका हुआ था. भाजपा और एनडीए की सरकार ने उसे पास कराया और लागू भी किया. उन्होंने जीएसटी के अनुपालन में आने वाली समस्याओं पर विपक्ष की आलोचनाओं का जवाब कुछ इस तरह दिया.

India’s leap in World Bank’s Ease of Doing Business Rankings from 142 to 100 is unprecedented. But we are not satisfied at this, we want to do better. We will do whatever it takes to make it possible: PM @narendramodi

— PMO India (@PMOIndia) February 11, 2018

मोदी ने कहा, ‘जब हम नये घर में शिफ्ट होते हैं, तो वहां रात में गलती से बाथरूम की जगह किसी और दीवार से टकरा जाते हैं. इसका मतलब यह नहीं है कि हम नये घर में नहीं शिफ्ट होते.’ उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में रह रहे लोगों को यह विश्वास दिलाया कि उन्होंने या भारत में रह रहे उनके परिजनों ने जो सपने देखे हैं या देख रहे हैं, उसे उनकी सरकार जरूर पूरा करेगी.

इससे पहले सऊदी में भारतीय मूल के 30 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं. यहां पहुंचने पर मंदिर समिति के सदस्यों ने मंदिर से जुड़ा साहित्य मोदी को भेंट किया. प्रधानमंत्री यूएई की वर्ष 2015 की अपनी यात्रा के बाद दूसरी बार यहां आये हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘दुबई-अबू धाबी राजमार्ग पर बनने वाला यह अबू धाबी का पहला पत्थर से निर्मित मंदिर होगा.’

यूएई में भारत के राजदूत नवदीप सिंह सूरी ने कहा, ‘अबू धाबी में प्रथम हिंदू मंदिर 55,000 वर्ग मीटर भूमि पर बनेगा और रविवार को होने वाला इसका शिलान्यास ऐतिहासिक होगा.’ सूरी ने कहा कि रविवार को आप शिलान्यास समारोह देखेंगे, जो दुबई ओपेरा हाउस से होगा. यह परंपरा का प्रौद्योगिकी से मिलना है.

उन्होंने बताया कि मोदी दुबई ओपेरा हाउस में भारतीय समुदाय के साथ एक बैठक करेंगे. इस मंदिर का निर्माण भारतीय शिल्पकार कर रहे हैं. यह 2020 में पूरा होगा. बोचासनवासी श्री अक्षर पुरषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) के प्रवक्ता ने बताया कि पश्चिम एशिया में पत्थरों से बना यह प्रथम हिंदू मंदिर होगा. ट्रस्ट के एक सदस्य ने खलीज टाइम्स को बताया कि यह दिल्ली में बने बीएपीएस मंदिर और न्यू जर्सी में बन रहे मंदिर की प्रतिकृति होगी.

Advertisements