एसएम कॉलेज रोड में छेड़खानी विवाद में चले रोड़े-पत्थर

एसएम कॉलेज रोड में छेड़खानी विवाद में चले रोड़े-पत्थर

13th February 2018 0 By Deepak Kumar

भागलपुर। एसएम कॉलेज रोड में रविवार की रात कुछ आसामाजिक तत्वों और मनचलों ने छेड़खानी विवाद में जमकर उत्पात मचाया। देर रात कई घंटे तक दर्जनों युवकों ने उस रोड में हंगामा किया। मगर कोई भी उनके विरोध की हिम्मत नहीं जुटा पाया। कुछ लोगों के मुताबिक उनमें से कुछ के हाथ में हथियार थे। वे लोग एक लॉज मालिक के बेटे का नाम लेकर गाली गलौज करते हुए रोड़े-पत्थर चला रहे थे। उन लोगों ने एसएम कॉलेज रोड स्थित मॉडर्न लॉज, जैतपुर लॉज और धीरन लॉज को निशाना बनाते हुए पत्थरबाजी की। पुलिस के गश्ती दल को देख कर सभी युवक कोयलाघाट की ओर भाग निकले थे।

रात में मनचलों और अपराधियों का लगता है जमावड़ा
एसएम कॉलेज रोड में प्रतिदिन शाम के बाद अपराधियों और मनचलों का अड्डा लगा रहता है। उस रोड में बाइक सवार मनचलों का आतंक शाम से और बढ़ जाता है। उस समय छात्राएं अपने जरूरी सामान खरीदने के लिए सड़कों पर होती है। इस कारण उस रोड में युवकों का आना जाना अधिक हो जाता है। छेड़खानी की शिकार युवतियां उन युवकों के खिलाफ बोलने की हिम्मत नहीं जुटा पाती है। यदि कोई छात्रा विरोध करती है तो मकान मालिक को स्थानीय कुछ युवकों का सहारा लेकर मनचले मकान मालिक पर छात्रा को लॉज खानी कराने का दबाव बनाते हैं।
सुरक्षा के नाम पर होती है खानापूरी

खंजरपुर में 10-15 हजार छात्राएं रहती हैं। उनकी सुरक्षा की जिम्मेवारी स्थानीय बरारी पुलिस चौकी की है। मगर पुलिस द्वारा सुरक्षा के नाम पर की जाने वाली खानापूरी के कारण अक्सर छात्राओं को मनचलों के भद्दे-भद्दे कमेंट झेलने पड़ते हैं। कॉलेज रोड में रहने वाली छात्राएं भी खुद को असुरक्षित महसूस करती हैं। मगर कोई भी शिकायत की हिम्मत नहीं जुटा पाती है। यदि कोई बोलने की कोशिश भी करती है तो मकान मालिक के दबाव में कुछ नहीं कह पाती।
राहुल ने मचाया है आतंक
कुछ लोगों के मुताबिक स्थानीय राहुल नाम का युवक अपना गिरोह बनाकर आतंक मचाए हुए है। हाल ही में जदयू के मारवाड़ी कॉलेज अध्यक्ष आनंद यादव की पिटाई और गोली बारी मामले में कोयला घाट के भीम यादव को पुलिस ने जेल भेजा है। राहुल उन लोगों का ही साथी बताया जाता है। कुछ दिनों पहले उसी रोड में बरारी चौकी प्रभारी रोहित कुमार सिंह पर मनाली नाम के बदमाश ने रात में गश्ती के दौरान फाय¨रग कर दी थी। जिसमें वे बाल बाल बचे थे। मनाली को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया था।

Advertisements