बिहार : सफारी ने बच्चे को रौंदा, भड़के लोगों ने थानेदार को बनाया बंधक

बिहार : सफारी ने बच्चे को रौंदा, भड़के लोगों ने थानेदार को बनाया बंधक

19th February 2018 0 By Deepak Kumar

हथौड़ी : थाना क्षेत्र के कफेन गांव में रविवार को सड़क हादसे में कफेन निवासी गोपाल ठाकुर के दो वर्षीय पुत्र आर्यन की मौत हो गयी. घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया.
गरहां-कफेन मेला मार्ग को जाम कर दोनों तरफ से अवागमन ठप कर दिया. घटना की सूचना मिलते ही हथौड़ी पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस के पहुंचते ही आक्रोशित लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. भड़के लोगों ने हथौड़ी थानाध्यक्ष ध्रुव नारायण सिंह को करीब एक घंटे तक बंधक बनाये रखा. आक्रोशित लोग बच्चे को ठोकर मारने वाले चार पहिया वाहन को बरामद करने की मांग कर रहे थे. इस दौरान गुस्साये लोगों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की भी की.

कफेन गांव निवासी गोपाल ठाकुर ने बताया कि उनका पुत्र आर्यन दरवाजे पर खेल रहा था. इसी बीच, कफेन मेले की तरफ से आ रही संजीत सहनी की काले रंग की सफारी गाड़ी बच्चे को रौंदती हुई आगे निकल गयी.

बच्चा हवा में उछल कर जमीन पर गिरा. मौके पर ही उसकी मौत हो गयी. मुखिया वीरेन्द्र साह, पैक्स अध्यक्ष नवीन झा, जदयू नेता अनिश कुमार शाही आदि लोगों के काफी प्रयास के बाद लोगों ने पुलिस को बंधन से मुक्त किया. हथौड़ी थानाध्यक्ष ध्रुव नारायण सिंह ने पुलिस को बंधक बनाने की बात स्वीकार करते हुए दोषी लोगों पर कार्रवाई की बात कही.

Advertisements