आइपीएल 2018 की नीलामी में शनिवार को शिखर धवन, युवराज सिंह, हरभजन सिंह, फॉफ डु प्लेसिस, डेविड मिलर जैसे दिग्गजों को पछाड़ मुंबई इंडियंस की टीम में छह करोड़ बीस लाख रुपये में बिके पटना के इशान किशन ने बताया कि क्रिकेट में पैसा नहीं, प्रदर्शन ज्यादा मायने रखता है।

 

इशान पिछले दो सीजन से गुजरात से जुड़े थे और उस समय उनका बेस प्राइस 10 लाख थी, जबकि वे 35 लाख में बिके थे। इस बार उन्होंने अपनी बेस प्राइस 40 लाख रखा और लगभग 15 गुणा ज्यादा मूल्य पर बिके। इतने पैसे मिलने की उम्मीद थी? इस सवाल पर इशान ने कहा कि मैं घर में टीवी से चिपककर अपनी बारी का इंतजार कर रहा था। मुझे स्वयं पर पूरा भरोसा था।

 

इशान ने कहा कि अगर आप बेहतर प्रदर्शन करेंगे और फॉर्म में रहेंगे तो पैसे मिलेंगे ही। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में मैंने अच्छा प्रदर्शन किया और खासकर झारखंड की ओर से खेलते हुए पंजाब के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में 54 रनों की पारी मेरे लिए सोने पर सुहागा जैसी रही। मुझे रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर, चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस में जाने की उम्मीद थी। खुशी है कि इन्हीं तीनों में से एक टीम से खेलूंगा।

 

मुंबई ने मुझ पर जो भरोसा जताया है, उस पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करूंगा। सबसे बड़ी बात यह है कि सचिन सर के नजदीक रहकर उनके अनुभव का फायदा उठाऊंगा। आइपीएल में जैकपॉट लगने का जश्न भी मनाएंगे। इस पर इशान ने कहा कि अब आइपीएल के बाद ही इस बारे में सोचेंगे। अभिभावकों के साथ यहां से नवादा जाऊंगा। वहां से एक फरवरी को दिल्ली होते हुए हैदराबाद जाऊंगा, जहां वनडे मैच खेलने हैं।

 

इस बीच पटना में, इशान के बचपन के कोच संतोष कुमार, उसके पिता प्रणव पांडेय, मां सुचित्रा सिंह ने खुशी जताते हुए कहा कि किशन के लिए यह काफी सुनहरा मौका मिला है। मुंबई की टीम उसे बल्लेबाजी के साथ विकेटकीपर के तौर पर जरूर उपयोग में लाएगी। हमलोग दुआ करेंगे की वह दोहरी भूमिका में सफल रहे और अपने राज्य का नाम रोशन करे।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *