अयोध्या आए श्रीराम; CM योगी आदित्यनाथ ने की सरयू आरती, फिर 24 लाख दीयों से जगमगा उठे 51 घाट

अयोध्या: राम लला की नगरी अयोध्या में शनिवार की शाम ढलते ही एक अद्भुत नजारा देखने को मिला। आज यहां भव्य दीपोत्सव के तहत सरयू नदी के तट पर पड़ते अयोध्या के 51 घाटों को 24 लाख दीयों से सजाया गया। इसी के साथ यहां निर्माणाधीन श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के द्वार भी पहली बार भक्तों के लिए खोल दिए गए। दीपोत्सव कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू आरती के साथ किया। इसके बाद यहां वालंटियर्स ने 24 लाख दीयों को रौशन किया। सीएम योगी ने यहां राम कथा पार्क के मंच पर पहुंकर श्रीराम का राज्याभिषेक भी किया। प्रभु श्रीराम की नगरी में योगी सरकार का यह सातवां दीपोत्सव कार्यक्रम है।

दिव्य झांकियों की निकाली गई शोभायात्रा

बता दें कि दीपोत्सव कार्यक्रम के तहत शनिवार सुबह नगरी में भगवान राम के चरित्र पर बनी 18 भव्य और दिव्य झांकियों की शोभायात्रा बड़ी धूमधाम से निकाली गई। इसे योगी सरकार में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह ने भगवा ध्वज दिखाकर रवाना किया। श्रीराम के जीवन पर आधारित झांकियों की यह शोभायात्रा अयोध्या के उदया चौराहे से राम कथा पार्क तक निकाली गई। देश के विभिन्न राज्यों से आए कलाकारों ने शोभायात्रा के जरिए अपनी आस्था का भव्य प्रस्तुतीकरण किया। भारत के सभी प्रमुख लोकनृत्यों की शोभायात्रा को देखने के लिए सड़कों पर जनता का भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान जगह-जगह झांकियों की आरती भी उतारी गई। अयोध्या के पुरोहित समाज की ओर से सीएम योगी आदित्यनाथ का विशेष आभार भी व्यक्त किया गया।

लेजर शो में दिखाया गया भगवान श्रीराम के जीवन चरित

इसके बाद शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने राम की पैड़ी पहुंचकर सरयू माता की आरती में भाग लिया। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और सीएम योगी ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। फिर तमाम वॉलंटियर्स प्रयासों से प्रज्ज्वलित 24 लाख दीयों से अयोध्या के 51 घाट जगमगा उठे। सरयू तट पर अद्भुत नजारा देखने को मिला। राम की पैड़ी पर भव्य लेजर शो के जरिये भगवान श्रीराम के जीवन चरित को दिखाया गया। हर कोई इस दृश्य को न सिर्फ अपनी अंतरात्मा में, बल्कि भौतिक रूप से भी मोबाइल फोन या कैमरे आदि में सहेजने के लिए उत्सुक दिखाई दिया।